Call us now: (+91) 94135 68044

 Bank PO & Clerk New Batch Started.............................................................. Delhi / Rajasthan Police New Batch Started............................................................ BANK CLERK (9 : 00 AM to 01 : 00 PM) ..............................................................REET I & II LEVEL (12 : 30 PM to 05 : 30 PM).............................................................. Our site is currently under processing and updating . We will update all notes soon . Thank you

 

26 मार्च 2016 करेण्ट अफेयर्स

1) पश्चिमी रेल (CR) के तहत आने वाला वह कौन सा स्टेशन है जो यहाँ भारतीय रेल के देश के अपनी तरह के पहले एलीवेटेड ट्रेन टर्मिनल (elevated train terminus) के प्रस्तावित निर्माण के कारण मार्च 2016 के दौरान चर्चा में आया? – ठाकुर्ली

विस्तार: ठाकुर्ली (Thakurli) रेलवे स्टेशन मुम्बई के निकट कल्याण-डोम्बिविली नामक उपनगर में स्थित है। यहाँ भारतीय रेल (Indian Railways) ने देश में अपनी तरह का पहला एलीवेटेड ट्रेन टर्मिनल (elevated train terminus) स्थापित करने का प्रस्ताव स्वीकृत किया है। यह प्रस्तावित टर्मिनल लम्बी दूरी की ट्रेनों के लिए स्थापित किया जायेगा।

 यह प्रस्तावित टर्मिनल जमीन के ऊपर स्थापित किया जायेगा जिसका इस्तेमाल यहाँ से जाने वाले यात्रियों द्वारा ट्रेन पकड़ने के लिए किया जायेगा। वहीं नीचे वाले टर्मिनल का प्रयोग यहाँ उतरने वाले रेल यात्री करेंगे तथा वे यहीं से अपने गंतव्य के लिए निजी वाहन, टैक्सी अथवा ऑटो आदि पकड़ सकेंगे। इस परियोजना की कुल लागत 1,250 करोड़ रुपए आयेगी।

 उल्लेखनीय है कि अभी अधिकतर यात्री रेलगाड़ियाँ मुम्बई स्थित छत्रपति शिवाजी टर्मिनस (CST), दादर (Dadar) अथवा लोकमान्य तिलक टर्मिनल (LTT) से शुरू होती हैं अथवा यहाँ अपनी यात्रा पूरी करती हैं जबकि यहाँ के सबसे बड़े स्टेशन कल्याण (Kalyan) का इस्तेमाल भी भारी संख्या में रेलगाड़ियों द्वारा किया जाता है। ठाकुर्ली में यह एलीवेटेड ट्रेन टर्मिनल बनाना इसलिए जरूरी लग रहा है क्योंकि यहाँ तथा आस-पास के उपनगरीय-स्थानों से आने वाली यात्री-संख्या में भारी वृद्धि हुई है।

…………………………………………….

2) 25 मार्च 2016 को अपना संचालन शुरू कर कौन सा स्टॉक एक्सचेंज (stock exchange) एशिया का सबसे नया स्टॉक एक्सचेंज बन गया? –येंगोन स्टॉक एक्सचेंज (म्यांमार)

विस्तार: येंगोन स्टॉक एक्सचेंज (Yangon Stock Exchange – YSE) ने अपना संचालन 25 मार्च 2016 से शुरू कर दिया तथा इस दिन से यहाँ ट्रेडिंग का कार्य विधिवत शुरू कर दिया गया। यहाँ आईपीओ (IPO) लाने वाली पहली कम्पनी फर्स्ट म्यांमार इन्वेस्टमेण्ट (First Myanmar Investment – FMI) बन गई जोकि देश की सबसे बड़ी कम्पनियों में से एक है। इसके बाद कई अन्य बड़ी कम्पनियों के IPO इस नए स्टॉक एक्सचेंज में प्रस्तावित हैं।

 YSE की स्थापना अक्टूबर 2015 के दौरान म्यांमार की सार्वजनिक क्षेत्र की कम्पनी म्यांमा इकोनॉमिक बैंक (Myanma Economic Bank) तथा जापान की दो कम्पनियों ने संयुक्त उपक्रम (joint venture) के तौर पर किया था।

 उल्लेखनीय है कि म्यांमार (Myanmar) में पिछले 50 वर्षों से कोई स्टॉक एक्सचेंज नहीं है। पिछली आधी सदी के दौरान सैन्य नियंत्रण वाली सरकार ने म्यांमार की अर्थव्यवस्था को लगभग चौपट कर दिया है। इस सरकार का अंत 2011 में हुआ जब एक अर्द्ध-सैन्य सरकार ने देश की कमान अपने हाथों में ली।

 इस अर्द्ध-सैन्य सरकार (semi-civilian government) ने तमाम आर्थिक सुधारों को शुरू किया तथा स्टॉक एक्सचेंज को शुरू करना इन्हीं सुधारों में से एक है। इसी के तहत एशिया के इस नवीनतम येंगोन स्टॉक एक्सचेंज (YSE) की स्थापना की गई।

…………………………………………….

Radovan-Karadzic-2016

3) किस भूतपूर्व बोस्नियाई-सर्ब नेता को 1995 के स्रेब्रेनिका नरसंहार (Srebrenica genocide) तथा नौ अन्य युद्ध अपराधों में दोषी सिद्ध करते हुए इस मामले की सुनवाई के लिए गठित एक अंतर्राष्ट्रीय अपराध न्यायाधिकरण ने 24 मार्च 2016 को 40 वर्ष कारावास की सजा सुना दी? – राडोवान कराचिक (Radovan Karadzic)

विस्तार: 70-वर्षीय राडोवान कराचिक (Radovan Karadzic) पूर्ववर्ती यूगोस्लाविया से सम्बन्धित अपराधों के लिए गठित आपराधिक न्यायाधिकरण (International Criminal Tribunal for the former Yugoslavia – ICTY) द्वारा दोषी करार दिए जाने वाले सबसे वरिष्ठ राजनीतिज्ञ हैं। 24 मार्च 2016 को उन्हें अपने पर चलाए जा रहे कुल 11 में से 10 मामलों में न्यायाधिकरण ने दोषी पाया तथा 40 वर्ष कारावास की सजा सुना दी।

 न्यायाधिकरण ने कराचिक को वर्ष 1992 से 1995 के बीच पूरे बोस्निया में अमानवीय कृत्यों का दोषी पाया जिसमें लगभग एक लाख लोग मारे गए। यहाँ 1995 के स्रेब्रेनिका नरसंहार (Srebrenica genocide) का उल्लेख करना विशेष महत्वपूर्ण है जिसमें यहाँ के लगभग 8,000 मुस्लिमों की हत्या की गई थी तथा जिसे द्वितीय विश्व युद्ध के बाद सबसे भयंकर नरसंहार का दर्जा दिया जाता है।

 कराचिक को 11 वर्ष भगौड़ा रहने के बाद वर्ष 2008 में गिरफ्तार कर लिया गया था। उन पर लगा मुख्य आरोप यह था कि उन्होंने सर्बिया की उन फौजों का नेतृत्व किया था जिसने संयुक्त राष्ट्र (UN) के नियंत्रण वाले सुरक्षित समझे जाने वाले स्रेब्रेनिका क्षेत्र में नरसंहार कराया था।

 उल्लेखनीय है कि स्रेब्रेनिका तथा बोस्निया की राजधानी साराजीवो (Sarajevo) में हुए नरसंहार ने विश्व का जनमत सर्बियाई नेताओं के खिलाफ कर दिया था जिसके चलते नाटो (NATO) द्वारा किए गए हवाई हमलों ने इस युद्ध को समाप्त करने में प्रमुख भूमिका निभाई थी।

…………………………………………….

Jishnu-Raghavan-2016

4) 25 मार्च 2016 को दिवंगत होने वाले 35-वर्षीय अभिनेता जिष्नु राघवन (Jishnu Raghavan) किस भाषा की फिल्मों से जुड़े अभिनेता थे? – मलयालम

विस्तार: जिष्नु राधवन (Jishnu Raghavan) मलयामल (Malayalam) भाषा के प्रसिद्ध युवा अभिनेता थे तथा फेफड़े के कैंसर से लगभग दो वर्ष संघर्ष करने के बाद 25 मार्च 2016 को उनकी मृत्यु कोच्चि (Kochi) के एक निजी अस्पताल में हो गई। वे मलयालम फिल्मों के प्रसिद्ध अभिनेता राघवन (Raghavan) के पुत्र थे।

 जिष्नु राघवन ने अपने करियर की शुरूआत 1987 में रिलीज़ हुई मलयामल फिल्म “किलिपट्ट” (‘Kilipatt’) से की थी जिसमें उन्होंने बाल-अभिनेता की भूमिका निभाई थी। उन्होंने एक मुख्य अभिनेता के रूप में शुरूआत 2002 में रिलीज़ हुई बहुचर्चित फिल्म “नम्मल” (‘Nammal’) में की थी, जो बहुत बड़ी हिट हुई थी। इस फिल्म में उनकी भूमिका को बेहद सराहा गया था और उन्हें केरल फिल्म आलोचकों ने सर्वश्रेष्ठ नवोदित अभिनेता के पुरस्कार (Best Male Debut award) के लिए चुना था।

 उन्होंने बीच में अपने आप को फिल्मों से दूर कर लिया था तथा कुछ सामाजिक सरोकारों में भाग लिया था। लेकिन उन्होंने फिल्मों में अपनी शानदार वापसी “ऑरडिनेरी” (‘Ordinary’) नामक फिल्म से की थी, जोकि सुपरहिट हुई थी।

…………………………………………….

5) तमिल राजनीतिज्ञ विजयकांत (Vijaykanth) के दल देसिआ मुरपोक्कु द्रविड कडगम (DMDK) ने तमिलनाडु में होने वाले आगामी चुनावों के लिए किस गठबन्धन के साथ चुनावी गठजोड़ करने की घोषणा 23 मार्च 2016 को की? – पीपुल्स वेलफेयर फ्रंट (PWF)

विस्तार: पीपुल्स वेलफेयर फ्रंट (PWF) चार राजनीतिक दलों का गठजोड़ है। इसमें शामिल चार दल हैं – एमडीएमके (MDMK), सीपीएम (CPM), सीपीआई (CPI) और वीसीके (VCK)। अभिनेता से नेता बने विजयकांत ने 23 मार्च को घोषणा की उनके दल ने PWF के साथ गठबन्धन कर लिया है।

 इस गठजोड़ के तहत DMDK राज्य की कुल 234 विधानसभा सीटों में से 124 पर अपने उम्मीदवार खड़ा करेगी जबकि शेष सीटों पर PWF के चारों दलों को एक अनुपात के अनुसार सीटें दी जायेंगी।

 इस गठबन्धन की घोषणा तब की गई जब DMK अध्यक्ष (President) एम. करुणानिधि (M. Karunanidhi) ने कहा था कि DMDK उनके दल के साथ गठबन्धन करेगा।

…………………………………………….

| Current Affairs | Current Affairs 2016 | IAS | SBI | IBPS | Banking | Bank PO | Banking Awareness | Daily Current Affairs | Hindi Current Affairs | Hindi GK| करेण्ट अफेयर्स | सामयिकी,समसामायिकी | 2016 समसामायिकी | 2016 करेण्ट अफेयर्स |