Call us now: (+91) 94135 68044

 Bank PO & Clerk New Batch Started.............................................................. Delhi / Rajasthan Police New Batch Started............................................................ BANK CLERK (9 : 00 AM to 01 : 00 PM) ..............................................................REET I & II LEVEL (12 : 30 PM to 05 : 30 PM).............................................................. Our site is currently under processing and updating . We will update all notes soon . Thank you

 

Current Affairs 01 - 02 Aug 2017

1) निजी डेटा (personal data) की सुरक्षा से सम्बन्धित तमाम पक्षों की पहचान करने तथा एक इस विषय से सम्बन्धित विधेयक का मसौदा (draft bill) तैयार करने के लिए केन्द्र सरकार ने विशेषज्ञों की एक समिति का गठन किया है। इसके बारे में भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने 1 अगस्त 2017 को सर्वोच्च न्यायालय को जानकारी दी। उक्त समिति का अध्यक्ष किसे बनाया गया है? – न्यायमूर्ति बी.एन. श्रीकृष्णा

विस्तार: सर्वोच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश न्यायमूर्ति बी.एन. श्रीकृष्णा (Justice B.N. Srikrishna) को विशेषज्ञों की उस समिति का अध्यक्ष बनाया गया है जो व्यक्तिगत डेटा तथा इसके संरक्षण से सम्बन्धित प्रस्तावित कानून को तैयार करने में सहयोग प्रदान करेगी। इस समिति का गठन 31 जुलाई 2017 को किया गया तथा इसका मुख्य उद्देश्य व्यक्तिगत डेटा के संरक्षण (security of personal information) से जुड़े मसलों की पहचान करना तथा इस विषय पर तैयार हो रहे विधेयक के मसौदा को तैयार करने में मदद प्रदान करना है।

उक्त समिति के गठन के बारे में भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (Unique Identification Authority of India – UIDAI) ने 1 अगस्त 2017 को सर्वोच्च न्यायालय को जानकारी दी। उल्लेखनीय है कि सर्वोच्च न्यायालय की एक 9-सदस्यीय पीठ पिछले कुछ समय से इस विषय पर सुनवाई कर रहा है कि निजता (privacy) मौलिक अधिकार (fundamental right) है अथवा नहीं। UIDAI का मानना है कि निजता मौलिक अधिकार नहीं है तथा यह परिस्थितियों तथा मानवीय व्यवहार पर निर्भर करता है।

……………………………………………………………..

2) वर्ष 2011 में आरबीआई (RBI) द्वारा बचत खातों (savings accounts) की ब्याज दर (interest rates) को नियंत्रण मुक्त (deregulate) किए जाने के बाद ब्याज दरों में कटौती करने वाला देश का पहला बैंक कौन सा बन गया है? – भारतीय स्टेट बैंक (SBI)

विस्तार: देश के सबसे बड़े वाणिज्यिक बैंक – भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने 31 जुलाई 2017 को 1 करोड़ रुपए तक राशि रखने वाले बचत खातों की ब्याज दर को तत्काल प्रभाव से 50 आधार अंक (basis points) घटा कर 3.5% कर दिया।

इस प्रकार एसबीआई देश का पहला बैंक बन गया है जिसने ब्याज दरों को नियंत्रण मुक्त किए जाने के बाद इसमें कटौती की है। उल्लेखनीय है कि पहले भारतीय रिज़र्व बैंक बचत खातों की ब्याज दरों को नियंत्रित करता था लेकिन उसने 25 अक्टूबर 2011 को इसे नियंत्रण मुक्त (deregulate) करते हुए इसे तय करने का अधिकार बैंकों को दे दिया था।

एक अनुमान के मुताबिक ब्याज दर में इस कटौती से एसबीआई को प्रतिवर्ष 4,230 करोड़ रुपए की बचत होगी, यदि बचत खातों में बैंक के वर्तमान 9.4 लाख करोड़ रुपए की कुल जमा राशि को ध्यान में रखा जाय। ब्याज दर में कटौती के पीछे दो मुख्य कारण मुद्रास्फीति (inflation) में कमी तथा वास्तविक ब्याज दरें (real interest rates) अधिक रहना है। अब माना जा रहा है कि देश के अन्य बैंक भी एसबीआई की इस नीति का अनुसरण कर सकते हैं।

……………………………………………………………..

3) वातानुकूलित कोच (AC coach) में उपलब्ध कराए जाने वाले कम्बलों (blankets) की धुलाई को लेकर नियंत्रक एवं महालेखा-परीक्षक (CAG) द्वारा फटकार लगाए जाने के बाद भारतीय रेल (Indian Railway) ने इन डिब्बों में कम्बल उपलब्ध कराने की व्यवस्था समाप्त करने की शुरूआत जुलाई 2017 से कर दी है। किस ट्रेन में सबसे पहले कम्बल उपलब्ध कराना बन्द किया गया है? – जम्मू मेल (Jammu Mail)

विस्तार: भारतीय रेल के एक वरिष्ठ अधिकारी द्वारा प्रदान की गई जानकारी के अनुसार वातानुकूलित डिब्बों में कम्बल उपलब्ध न कराने की व्यवस्था को सर्वप्रथम जम्मू मेल (Jammu Mail) के “थ्री-टियर एसी” (3 tier AC) कोच में लागू किया गया है।

इस व्यवस्था को लागू किए जाने के अलावा भारतीय रेल ने यात्रियों से इस नीति के बारे में फीडबैक लेने की शुरूआत भी कर दी है। रेल अधिकारी पहले यह पता लगायेंगे कि इस ट्रेन के कितने यात्रियों को कम्बल की जरूरत पड़ी है तथा कितने यात्री बिना कम्बल के संतुष्ट हैं। इसके बाद इस नीति को अन्य रेलगाड़ियों में लागू किया जायेगा।

यहाँ यह भी उल्लेखनीय है कि भारतीय रेल ने “कम्बल-रहित नीति” (no-blanket policy) को सफल बनाने के लिए वातानुकूलित कोच के तापमान को वर्तमान 19 डिग्री से बढ़ाकर 24 से 26 डिग्री करने का निर्णय लिया है जिससे यात्री बिना कपकपी के सामान्य शीतलता में बिना कम्बल के यात्रा कर सकें। यह प्रयोग भी जम्मू तवी से दिल्ली के बीच में चलने वाली जम्मू मेल में शुरू किया गया है।

अभी कुछ समय पहले नियंत्रक एवं महालेखा-परीक्षक (Comptroller and Auditor General – CAG) ने अपनी रिपोर्ट में भारतीय रेल को तगड़ी फटकार इसलिए लगाई थी क्योंकि वह धुलाई-सफाई में अधिक खर्च होने के चलते यात्रियों को गंदे कम्बल व चद्दरें उपलब्ध करा रही है।

……………………………………………………………..

4) पाकिस्तानी संसद ने देश के अंतरिम प्रधानमंत्री (interim Prime Minister) के रूप में किसका चयन 1 अगस्त 2017 को किया? – शाहिद खकान अब्बासी (Shahid Khaqan Abbasi)

विस्तार: 1 अगस्त 2017 को पाकिस्तानी संसद में हुए मतदान में सत्ताधारी पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (PML-N) के उम्मीदवार शाहिद खकान अब्बासी (Shahid Khaqan Abbasi) को देश का अंतरिम प्रधानमंत्री चुन लिया गया। देश के सर्वोच्च न्यायालय ने भ्रष्टाचार के आरोप सिद्ध हो जाने के चलते 28 जुलाई 2017 को अपने आदेश में नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) द्वारा देश में कोई भी सार्वजनिक पद संभालने पर प्रतिबन्ध लगा दिया था।

अंतरिम प्रधानमंत्री के लिए संसद में हुए चुनाव में शाहिद खकान अब्बासी को कुल 341 में 221 मत हासिल हुए जबकि विपक्ष के अन्य तीन उम्मीदवारों को कुल 84 मत हासिल हुए। माना जा रहा है कि नवाज शरीफ के छोटे भाई शहबाज शरीफ (Shahbaz Sharif) के नियमानुसार 6 सप्ताह के भीतर संसद सदस्य बनने के बाद शाहिद खकान अब्बासी उन्हें सत्ता सौंप देंगे। शहबाज शरीफ फिलहाल पंजाब सूबे के मुख्यमंत्री हैं।

……………………………………………………………..

5) सुरक्षाबलों द्वारा पुलवामा में 1 अगस्त 2017 को संचालित एक संयुक्त अभियान में जम्मू व कश्मीर (J&K) राज्य में दर्जनों आतंकी घटनाओं को अंजाम देने वाले दुर्दान्त आतंकी अबू दुजाना (Abu Dujana) को मौत के घाट उतार दिया गया। उसका सम्बन्ध किस आतंकी संगठन से था? – लश्कर-ए-तैय्बा (LeT)

विस्तार: पाकिस्तान में जन्मा अबू दुजाना (Abu Dujana) “A++” श्रेणी का आतंकी था तथा वह सुरक्षाबलों तथा आम नागरिकों पर हुए लगभग 1 दर्जनों हमलों का वांछित अपराधी था। उसके सर पर 15 लाख रुपए का ईनाम था तथा वह कश्मीर घाटी में लश्कर-ए-तैय्बा (Lashkar-e-Taiba – LeT) के कमाण्डर के रूप में कार्यरत था।

सुरक्षाबलों द्वारा जम्मू व कश्मीर में चलाए गए एक संयुक्त अभियान में 1 अगस्त 2017 को तड़के वह मारा गया। उल्लेखनीय है कि सुरक्षाबलों के खुफिया नेटवर्क से उसके पुलवामा के एक गाँव में आने की सूचना पर इस गाँव को रात में ही घेर लिया गया था।

……………………………………………………………..

 

http://churugurukul.com/?q=current-affairs-29-31-july-2017