Call us now: (+91) 94135 68044

 Bank PO & Clerk New Batch Started.............................................................. Delhi / Rajasthan Police New Batch Started............................................................ BANK CLERK (9 : 00 AM to 01 : 00 PM) ..............................................................REET I & II LEVEL (12 : 30 PM to 05 : 30 PM).............................................................. Our site is currently under processing and updating . We will update all notes soon . Thank you

 

Current Affairs 03 - 04 April 2017

1) भारत के किन 6 बैंकिंग उपक्रमों (6 banking entities) का अस्तित्व 1 अप्रैल 2017 को उस समय समाप्त हो गया जब भारतीय स्टेट बैंक (SBI) में इनका विलय इस तिथि से प्रभावी हो गया? – स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एण्ड जयपुर, स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ पटियाला, स्टेट बैंक ऑफ ट्रावणकोर और भारतीय महिला बैंक

विस्तार: स्टेट बैंक समूह के 5 बैंकों – स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एण्ड जयपुर (SBBJ), स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद (SBH), स्टेट बैंक ऑफ मैसूर (SBM), स्टेट बैंक ऑफ पटियाला (SBP) और स्टेट बैंक ऑफ ट्रावणकोर (SBT) तथा भारतीय महिला बैंक (BMB) का बैंकिंग उपक्रम के रूप में अस्तित्व उस समय समाप्त हो गया जब देश के सबसे बड़े व्यावसायिक बैंक – भारतीय स्टेट बैंक (State Bank of India – SBI) में इनका विलय 1 अप्रैल 2017 से प्रभावी हो गया। इस विलय के साथ भारतीय स्टेट बैंक दुनिया के 50 सबसे बड़े बैंकों में शुमार हो गया।

 इस छह-तरफा महाविलय (six-way mega merger) के साथ भारतीय स्टेट बैंक का कुल जमा आधार (total deposit base) लगभग 26 लाख करोड़ रुपए तथा इसका कुल प्रदत्त ऋण (total advances) 18.50 लाख करोड़ के आसपास पहुँच गया। वहीं इसके ग्राहकों की कुल संख्या (total customer base) लगभग 37 करोड़, बैंक शाखाओं की संख्या 26,000 तथा एटीएम (ATMs) की कुल संख्या लगभग 59,000 हो गई।

 केन्द्र सरकार ने इन 5 सहयोगी बैंकों के SBI में विलय (merger) को फरवरी 2017 में मंजूरी प्रदान की थी जबकि भारतीय महिला बैंक (BMB) के इसमें विलय को मार्च 2017 में मंजूरी दी गई थी।

 उल्लेखनीय है कि भारतीय स्टेट बैंक में इसी प्रकार स्टेट बैंक ऑफ सौराष्ट्र (State Bank of Saurashtra – SBS) का विलय 2008 में किया गया था जबकि एक और सहयोगी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंदौर (State Bank of Indore) का विलय वर्ष 2010 में किया गया था।

……………………………………………………

2) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2 अप्रैल 2017 को भारत के साथ-साथ एशिया की सबसे लम्बी सड़क सुरंग – “चेनानी-नाशारी टनल” (‘Chenani-Nashri Tunnel’) का उद्घाटन किया। इस सुरंग की कुल लम्बाई कितनी है? – 9.28 किलोमीटर

विस्तार: 9.28 किलोमीटर लम्बी “चेनानी-नाशारी टनल” ने जम्मू (Jammu) और श्रीनगर (Srinagar) के बीच की दूरी को लगभग 30 किलोमीटर कम कर दिया है। 3720 करोड़ रुपए की लागत से बनी इस सुरंग का काम 23 मई 2011 को शुरू हुआ था।

 इस सुरंग को “पटनीटॉप सुरंग” (‘Patnitop Tunnel’) के नाम से भी जाना जाता है तथा इसके बनने से पटनीटॉप (Patnitop), कुड (Kud) और बटोट (Batote) को बाईपास कर लगभग 2 घण्टे जल्दी श्रीनगर पहुँचना संभव हो जायेगा। इस सुरंग के बन जाने से राष्ट्रीय राजमार्ग 44 (NH44) पर प्राय: बर्फबारी के समय लगने वाले भीषण जाम से मुक्ति मिल जायेगी। प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार चेनानी-नाशारी सुरंग के चलते प्रत्येक दिन लगभग 27 लाख रुपए के ईंधन की खपत कम होगी।

 13 मीटर व्यास वाली इस अत्याधुनिक सुरंग को दुनिया के सर्वश्रेष्ठ सुरक्षा उपायों से लैस किया गया है।

……………………………………………………

3) गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले वरिष्ठ नागरिकों को शारीरिक व्याधियों में सहायता के लिए शारीरिक-सहायता उपकरण प्रदान करने से सम्बन्धित उस योजना का क्या नाम है जिसकी शुरूआत 1 अप्रैल 2017 को आन्ध्र प्रदेश के नेल्लूर जिले में की गई? – “राष्ट्रीय वयोश्री योजना” (“Rashtriya Vayoshri Yojana”)

विस्तार: “राष्ट्रीय वयोश्री योजना” (“Rashtriya Vayoshri Yojana”) को 1 अप्रैल 2017 को आन्ध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के नेल्लूर (Nellore) जिले में आधिकारिक रूप से शुरू किया गया। सामाजिक न्याय एवं सशक्तीकरण मंत्रालय (Social Justice and Empowerment) द्वारा शुरू की गई इस योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे (BPL) रहने वाले वरिष्ठ नागरिकों (senior citizens) को शारीरिक व्याधियों में सहायता के लिए शारीरिक-सहायता उपकरण (physical aids and assisted-living devices) प्रदान करने की व्यवस्था की गई है।

 उक्त योजना को कार्यान्वयन का कार्य सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम (Artificial Limbs Manufacturing Corporation – ALIMCO) को सौंपा गया है तथा इसके तहत प्रदान किए जाने वाले उपकरण हैं – चलने वाली छड़ी, कुहनी वाली बैसाखी, वॉकर, ट्राइपॉड/क्वॉडपॉड, श्रवण उपकरण, कृत्रिम डेंचर तथा चश्मे।

 “राष्ट्रीय वयोश्री योजना”, जोकि देश में शुरू की जाने वाली अपनी तरह की पहली योजना है, के द्वारा अगले 3 वर्षों में लगभग 5,20,000 वरिष्ठ नागरिक लाभान्वित होने की संभावना है।

……………………………………………………

4) भारत की दिग्गज बैडमिण्टन खिलाड़ी पी.वी. सिन्धु (P.V. Sindhu) ने 2 अप्रैल 2017 को हुए महिला एकल फाइनल में किस खिलाड़ी को हराकर अपना पहला इण्डिया ओपन सुपर सीरीज़ (India Open Super Series) खिताब जीत लिया? – कैरोलीना मारिन (Carolina Marin)

विस्तार: पी.वी. सिन्धु (P.V. Sindhu) ने नई दिल्ली स्थित सीरी फोर्ट स्पोर्ट्स कॉम्प्लैक्स (Siri Fort Sports Complex) में आयोजित वर्ष 2017 की इण्डिया ओपन सुपर सीरीज़ (2017 India Open Super Series) के महिला एकल फाइनल में 2 अप्रैल 2017 को स्पेन की कैरोलीना मारिन (Carolina Marin) को एक कड़े मुकाबले में 21-19, 21-16 से हराकर अपने जीवन का पहला इण्डिया ओपन सुपर सीरीज़ खिताब जीत लिया।

 उल्लेखनीय है कि रियो ऑलम्पिक के महिलाओं के बैडमिण्टन एकल फाइनल में मारिन ने ही सिन्धु को हराकर स्वर्ण पदक जीता था तथा इस प्रकार इस जीत के साथ सिन्धु ने अपनी उस हार का बदला ले लिया।

 इससे पूर्व डेनमार्क (Denmark) के विक्टोर एक्सेलसन (Viktor Axelsen) ने पुरुष एकल फाइनल में चीनी ताइपे (Chinese Taipei) के चोऊ तिएन-चेन (Chou Tien-Chen) को आसानी से 21-13, 21-10 से हराकर अपना पहला इण्डिया ओपन सुपर सीरीज़ खिताब जीत लिया।

 एक्सेलसन की यह खिताबी जीत इसलिए भी महत्वपूर्ण रही क्योंकि वे पिछले दो संस्करणों के फाइनल में पराजित हुए थे। वर्ष 2015 में उन्हें भारत के किदम्बी श्रीकांत (Kidambi Srikanth) ने हराया था वहीं पिछले साल के फाइनल में वे जापान के केन्टो मोमोता (Kento Momota) से हार गए थे।

……………………………………………………

5) दक्षिण अमेरिका (South America) के किस देश में 1 अप्रैल 2017 को हुई भूस्खलन (mudslide) की एक बड़ी घटना में कम से कम 250 लोगों की मौत हो गई? – कोलम्बिया (Colombia)

विस्तार: कोलम्बिया (Colombia) के दक्षिण पश्चिम क्षेत्र में स्थित शहर मोकोआ (Mocoa) में 1 अप्रैल 2017 को तड़के हुई एक भीषण भूस्खलन की घटना में कम से कम 250 लोगों की मौत हो गई। भूस्खलन की यह घटना उस समय घटी जब जबर्दस्त बारिश के बाद इस क्षेत्र में बहने वाली नदी तटबन्ध तोड़ कर बहने लगी तथा अपने साथ भारी मात्रा में मिट्टी बहा कर आवासीय क्षेत्र में प्रविष्ट हो गई।

 जिस समय यह घटना घटी उस समय अधिकांश लोग सो रहे थे इसलिए अपनी रक्षा नहीं कर पाए। उल्लेखनीय है कि मोकोआ इक्वाडोर (Ecuador) की सीमा के पास बसा लगभग 3.5 लाख की आबादी वाला नगर है तथा यहाँ हुए भूस्खलन से तमाम घर कई फीट मिट्टी में डूब गए।

……………………………………………………

 

http://churugurukul.com/current-affairs-01-02-april-2017