Call us now: (+91) 94135 68044

 Bank PO & Clerk New Batch Started.............................................................. Delhi / Rajasthan Police New Batch Started............................................................ BANK CLERK (9 : 00 AM to 01 : 00 PM) ..............................................................REET I & II LEVEL (12 : 30 PM to 05 : 30 PM).............................................................. Our site is currently under processing and updating . We will update all notes soon . Thank you

 

Current Affairs 03 - 04 March 2017

1) 2 मार्च 2017 को प्रकाशित मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जियो पेमेण्ट्स बैंक (Jio Payments Bank – JPB) को अपना संचालन शुरू करने के लिए भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) की स्वीकृति मिल गई है। JPB रिलायंस इण्डस्ट्रीज़ लिमिटेड (RIL) और सार्वजनिक क्षेत्र के किस बैंक के बीच स्थापित साझा उपक्रम है? – भारतीय स्टेट बैंक (SBI)

विस्तार: उल्लेखनीय है कि रिलायंस इण्डस्ट्रीज़ लिमिटेड (RIL) और भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के बीच जियो पेमेण्ट्स बैंक (Jio Payments Bank – JPB) नामक नया पेमेण्ट्स बैंक उपक्रम स्थापित करने के लिए समझौता जुलाई 2016 के दौरान हुआ था। अब इस उपक्रम को अपना संचालन शुरू करने के लिए भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) की स्वीकृति भी मिल गई है। इस साझा उपक्रम में RIL की 70% हिस्सेदारी जबकि शेष 30% हिस्सेदारी भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के पास है।

 माना जा रहा है कि इसका संचालन मार्च 2017 के अंत तक शुरू हो जायेगा।

 यहाँ यह भी उल्लेखनीय है कि RIL के टेलीकॉम उपक्रम रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड (Reliance Jio Infocomm Ltd) ने हाल ही में 10 करोड़ ग्राहकों की संख्या पार कर ली है। अब अपने जियो पेमेण्ट्स बैंक के द्वारा वह अपने खुदरा ग्राहकों की भारी-भरकम संख्या का लाभ उठाते हुए अपने बैंकिंग व्यवसाय को तेजी प्रदान करना चाहेगा। इसले लिए वह अपने रिटेलर्स, मर्चेन्ट्स टाय-अप्स और Jio विक्रेताओं के नेटवर्क का लाभ उठाने का प्रयास करेगा।

…………………………………………………………………..

2) हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) की कैबिनेट द्वारा 2 मार्च 2017 को एक प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान किए जाने के बाद कौन सा स्थान प्रदेश की दूसरी राजधानी बन जायेगा? – धर्मशाला (Dharamshala)

विस्तार: हिमाचल प्रदेश की कैबिनेट ने 2 मार्च 2017 को धौलाधार पर्वतमाला (Dhauladhar range) में स्थित धर्मशाला (Dharamshala) को राज्य की दूसरी राजधानी बनाने के प्रस्ताव को अपनी मंजूरी प्रदान कर दी।

 उल्लेखनीय है कि राज्य के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह (Virbhadra Singh) ने 19 जनवरी 2017 को घोषणा की थी कि उनकी सरकार धर्मशाला को राज्य की शीतकालीन राजधानी बनाने से सम्बन्धित एक प्रस्ताव पर गंभीरता से विचार कर रही है।

 शिमला (Shimla) राज्य की राजधानी है लेकिन शीतकाल में यहाँ कभी-कभी भारी हिमपात के कारण कई समस्याएं सामने आती हैं।

…………………………………………………………………..

3) रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने 2 मार्च 2017 को स्वदेशी तकनीक से विकसित हथियारों का पता लगाने में सक्षम एक राडार प्रणाली (Weapon Locating Radar – WLR) को भारतीय थलसेना (Indian Army) को सौंपा। इस प्रणाली का क्या नाम है? – “स्वाति” (‘Swati’)

विस्तार: “स्वाति” (‘Swati’) स्वदेशी तकनीक से निर्मित उस राडार प्रणाली (WLR) का नाम है जो एक स्थान पर तैनात हथियारों का पता लगाने में सक्षम है। इसे रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (Defence Research and Development Organisation – DRDO) ने विकसित किया है तथा 2 मार्च 2017 को इसे भारतीय थलसेना को सौंप दिया।

 उल्लेखनीय है कि “स्वाति” का इस्तेमाल पहली बार वर्ष 2016 में पाकिस्तान से सटी वास्तविक नियंत्रण रेखा (LoC) पर किया गया था तथा इसकी तैनाती ने पाकिस्तान से होने वाली फायरिंग पर नियंत्रण लगाने में प्रमुख भूमिका निभाई थी। इस राडार का कवरेज क्षेत्र 50 किमी. है तथा इस प्रकार युद्ध के समय यह आर्टिलरी तोपों से होने वाली गोलाबारी पर नियंत्रण लगाने में काफी सक्षम है।

…………………………………………………………………..

4) सुप्रसिद्ध गुजराती लेखक व पटकथाकार तारक मेहता (Taarak Mehta) का 1 मार्च 2017 को अहमदाबाद में निधन हो गया। उनके उस समाचार स्तंभ (newspaper column) का क्या नाम था जिसपर सुप्रसिद्ध हिन्दी सीरियल “तारक मेहता का उल्टा चश्मा” आधारित है? – “दुनिया ने उन्धा चश्मा” (‘Duniya Ne Undha Chasma’)

विस्तार: तारक मेहता (Taarak Mehta) ने अपने व्यंग्य आधारित समाचार स्तंभ “दुनिया ने उन्धा चश्मा” को मार्च 9711 में गुजराती समाचार-पत्र “चित्रलेखा” में प्रकाशित करवाना शुरू किया था। तमाम समसामयिक विषयों को अलग नज़रिए से देखने के लिए लिखा गया यह साप्ताहिक स्तंभ खूब लोकप्रिय हुआ।

 इसी स्तंभ को आधार मानकार गुजराती लेखक व निर्माता असित कुमार मोदी ने हिंदी टीवी सीरीज़ “तारक मेहता का उल्टा चश्मा” (‘Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah’) का निर्मान शुरू किया तथा इसका प्रसारण सब टीवी (SAB TV) पर 28 जुलाई 2008 से शुरू हुआ। यह टीवी इतिहास के कुछ सबसे लोकप्रिय टीवी सीरियल्स में से एक बना तथा 2000 से अधिक कड़ियाँ प्रसारित होने के बावजूद अपनी लोकप्रियता कायम किए हुए है।

 तारक मेहता का निधन 87 वर्ष की आयु में तमाम आयु-जनित रोगों के चलते हुआ। उन्हें वर्ष 2015 में देश का सबसे बड़ा नागरिक सम्मान “पद्म श्री” (‘Padma Shri’) प्रदान किया गया था।

…………………………………………………………………..

 

http://churugurukul.com/current-affairs-01-02-march-2017