Call us now: (+91) 94135 68044

 Bank PO & Clerk New Batch Started.............................................................. Delhi / Rajasthan Police New Batch Started............................................................ BANK CLERK (9 : 00 AM to 01 : 00 PM) ..............................................................REET I & II LEVEL (12 : 30 PM to 05 : 30 PM).............................................................. Our site is currently under processing and updating . We will update all notes soon . Thank you

 

Current Affairs 05 - 06 December 2016

heart-of-asia-2016

1) इस्तांबुल प्रक्रिया (Istanbul Process) के तहत होने वाले “हर्ट ऑफ एशिया सम्मेलन” 2016 (‘Heart of Asia Summit 2016) का आयोजन 3 व 4 दिसम्बर 2016 को भारत के किस शहर में किया गया? – अमृतसर (Amritsar)

विस्तार: “हर्ट ऑफ एशिया सम्मेलन” (मंत्रीस्तरीय) का छठवाँ संस्करण 3 व 4 दिसम्बर 2016 को पंजाब (Punjab) के अमृतसर (Amritsar) शहर में आयोजित किया गया। यह पहला मौका था जब यह सम्मेलन भारत में आयोजित किया गया हो। इस सम्मेलन में लगभग 40 देशों तथा यूरोपीय संघ (EU) जैसे संगठनों ने अफगानिस्तान (Afghanistan) के समस्त आ रहीं तमाम चुनौतियों के बारे में चर्चा की।

 इस सम्मेलन का उद्घाटन भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी (Ashraf Ghani) ने संयुक्त रूप से किया। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के विदेशी मामलों के सलाहकार सरताज अज़ीज़ (Sartaj Aziz) ने सम्मेलन में पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व किया।

 सम्मेलन के अंतिम दिन 4 दिसम्बर 2016 को भारत और अफगानिस्तान दोनों ने आतंक के मुद्दे पर पाकिस्तान को जमकर खरी खोटी सुनाई। उन्होंने पाकिस्तान से आग्रह किया कि वह अपनी भूमि का इस्तेमाल आतंकी संगठनों द्वारा पड़ोसी देशों में आतंकी घटनाओं को अंजाम देने से रोके।

 उल्लेखनीय है कि “हर्ट ऑफ एशिया” सम्मेलन की शुरूआत तुर्की (Turkey) के इस्तांबुल (Istanbul) शहर में वर्ष 2011 में हुई थी जब अफगानिस्तान में राजनीतिक स्थिरता लाने के लिए कटिबद्ध देशों ने अपनी तरफ से इस युद्धग्रस्त देश को राजनीतिक, आर्थिक तथा सुरक्षा-सम्बन्धी सहयोग प्रदान करने का निर्णय लिया था। इन देशों का मानना था कि ऐसा करने से समस्त एशिया की भू-राजनीतिक स्थिति को संतुलित किया जा सकता है।

 “हर्ट ऑफ एशिया” में शामिल देश हैं – अफगानिस्तान, भारत, पाकिस्तान, अजरबैजान, चीन, ईरान, कजाकिस्तान, खिर्गिजस्तान, रूस, सऊदी अरब, ताजिकिस्तान, तुर्की, तुर्कमेनिस्तान तथा संयुक्त अरब अमीरात। वहीं तमाम देश सहयोगी सदस्य के रूप में शामिल हैं।

………………………………………………………

chitra-ramkrishna-nse-2016

2) नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) के प्रबन्ध निदेशक (MD) व सीईओ (CEO) पद से 2 दिसम्बर 2016 को इस्तीफा देने वाली हस्ती का क्या नाम है? – चित्रा रामकृष्णन (Chitra Ramkrishna)

विस्तार: चित्रा रामकृष्णन (Chitra Ramkrishna), जोकि भारत के सबसे बड़े स्टॉक एक्सचेंज नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) की प्रबन्ध निदेशक (MD) तथा मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) थीं, ने 2 दिसम्बर 2016 को इस पद से इस्तीफा दे दिया। उनका कार्यकाल मार्च 2018 तक था तथा NSE का IPO आने के कुछ ही दिन पूर्व उन्होंने इस पद से इस्तीफा दे दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार IPO को लाने के तरीके को लेकर उनके NSE के अन्य बोर्ड सदस्यों के साथ कई मतभेद उजागर हुए थे।

 चित्रा रामकृष्णन, जोकि एक पेशे से चार्टर्ड एकाउण्टेंट (CA) हैं, ने अपने करियर की शुरूआत 1983 में IDBI के साथ की थी। उन्हें IDBI के तत्कालीन अध्यक्ष एस.एस. नादकर्णी (S S Nadkarni) ने NSE की स्थापना के लिए चयनित पाँच लोगों में से एक के रूप में किया था। सितम्बर 2009 में उन्हें NSE की संयुक्त प्रबन्ध निदेशक नियुक्त किया गया था जबकि अप्रैल 2013 में वे प्रबन्ध निदेशक (MD) व CEO बन गईं थीं। वे एशिया-प्रशांत क्षेत्र में किसी स्टॉक एक्सचेंज का नेतृत्व करने वाली तीसरी महिला थीं (कोलम्बो स्टॉक एक्सचेंज और चीन के शेनज़ेन स्टॉक एक्सचेंज के बाद)।

 इसी के साथ वे भारत में वित्तीय सेवा क्षेत्र में सर्वाधिक पारिश्रमिक प्राप्त करने के मामले में एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) के एमडी आदित्य पुरी (Aditya Puri) के बाद दूसरे स्थान पर थी। पुरी को वर्ष 2016 के दौरान 9.7 करोड़ रुपए सालाना का पारिश्रमिक मिल रहा है।

………………………………………………………

mercosur-2016

3) दिसम्बर 2016 के दौरान किस देश की दक्षिण अमेरिका (South America) के व्यापार संगठन मर्कोसुर (Mercosur) की सदस्यता छीन ली गई? – वेनेजुएला (Venezuela)

विस्तार: 2 दिसम्बर 2016 को वेनेजुएला (Venezuela) को मर्कोसुर (Mercosur) नामक दक्षिण अमेरिकी देशों के व्यापार संगठन से बाहर कर दिया गया। इसके पीछे दलील दी गई कि वेनेजुएला ने संगठन के कुछ उप-नियमों के अनुपालन में कोताही बरती है।

 वेनेजुएला के विदेश मंत्री डेल्सी रॉड्रिगुएज़ को लिखे एक पत्र में ब्राज़ील के नेतृत्व में मर्कोसुर के सदस्य देशों ने उल्लिखित किया कि उसे तत्काल प्रभाव से संगठन से बाहर किया जा रहा है। अब वेनेजुएला को संगठन की सदस्यता पुन: हासिल करने के लिए संगठन से वार्ता करनी पड़ेगी। वहीं वेनेजुएला की सरकार ने संगठन के इस निर्णय को अनुचित बताया तथा कहा कि क्षेत्र के दक्षिणपंथी नेताओं ने उनके देश को जानबूझकर राजनीति का शिकार बनाया है।

 उल्लेखनीय है कि मर्कोसुर की स्थापना वर्ष 1991 में अर्जेन्टीना, ब्राज़ील, पराग्वे और उरुग्वे ने कस्टम शुल्कों के संघ (customs union) के रूप में किया था। बाद में वेनेजुएला को संगठन के पाँचवें सदस्य के रूप में वर्ष 2012 में शामिल किया गया था।

 हालांकि इस व्यापार संगठन की प्रासंकिकता काफी कम हो चुकी है क्योंकि अब संगठन का पूरा ध्यान अपना समस्त उत्पादन चीन (China) को बेचने पर केन्द्रित हो गया है।

………………………………………………………

4) वैज्ञानिकों एक दल ने हाल ही में एक ऐसी प्राचीन नदी को खोज निकाला है जिसके बारे में माना जा रहा है कि यह संभवत: प्रदूषण का शिकार बनने वाली दुनिया की पहली नदी थी। यह नदी किस देश में स्थित है? – जॉर्डन (Jordan)

विस्तार: कनाडा की यूनीवर्सिटी ऑफ वाटरलू (University of Waterloo) के प्रोफेसर रसेल एडम्स (Russell Adams) के नेतृत्व में एक दल ने दक्षिण जॉर्डन में स्थित एक ऐसी नदी का पता लगाया है जिसके बारे में किए गए शोध से पता चला है कि यह नदी संभवत: विश्व में प्रदूषण का शिकार होने वाली पहली नदी थी। वाडी फायनान (Wadi Faynan) क्षेत्र में स्थित इस नदी के लगभग 7,000 वर्ष पहले प्रदूषित होने के प्रमाण मिले हैं।

 वैज्ञानिक दल द्वारा किए गए शोध के अनुसार मानव ने जिस काल में पाषाण काल से निकल कर धातुओं के प्रयोग की ओर कदम बढ़ाया था तब तांबे को नदी के आस-पास जलाने से यहाँ प्रदूषण की शुरूआत हुई थी। एडम्स का इस सम्बन्ध में मानना है कि जॉर्डन के इस क्षेत्र में दुनिया की पहली औद्यौगिक क्रांति हुई थी। लेकिन धातुओं के बढ़ते प्रयोग ने पर्यावरण को भारी नुकसान पहुँचाया।

 धातुओं को बनाने की प्रक्रिया के दौरान तांबे, सीसे, जस्ते, कैडमियम, आदि के कण नदियों के आसपास एकत्रित हुए तथा इसने धीरे-धीरे नदी के प्रदूषित होने का सफर शुरू हुआ। वैज्ञानिकों द्वारा खोजी गई यह नदी वर्तमान में अस्तित्व में नहीं है।

………………………………………………………

5) भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने 4 दिसम्बर 2016 को एशिया कप ट्वेंटी20 (T20) खिताब के फाइनल में किस देश को हराकर यह खिताब लगातार छठवीं बार जीतने का गौरव हासिल किया? – पाकिस्तान (Pakistan)

विस्तार: भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने एशिया कप टी20 (Asia Cup T20) प्रतियोगिता में अपनी बादशाहत को कायम रखते हुए बैंकॉक (Bangkok) में 4 दिसम्बर 2016 को हुए फाइनल मुकाबले में चिर-प्रतिद्वन्दी पाकिस्तान को हराते हुए अपना लगातार छठवाँ खिताब जीत लिया। उल्लेखनीय है कि भारत ने अब तक हुए सभी छह एशिया कप T20 खिताब जीते हैं।

 अनुभवी मिताली राज (Mithali Raj), जिन्हें इस टूर्नामेण्ट के पहले ही T20 टीम की कप्तानी से हटाया गया था, ने अपनी काबीलियत दिखाते हुए फाइनल में नाबाद 73 रन बनाकर 20 ओवर में भारत के स्कोर को 5 विकेट पर 121 रन तक पहुँचाया।

 जबाव मे पाकिस्तान की टीम तय 20 ओवरों में 6 विकेट के नुकसान पर मात्र 104 रन बना पाई तथा इस प्रकार भारत ने यह फाइनल 17 रन से जीत लिया।

………………………………………………………

 

http://www.churugurukul.com/current-affairs-03-04-december-2016