Call us now: (+91) 94135 68044

 Bank PO & Clerk New Batch Started.............................................................. Delhi / Rajasthan Police New Batch Started............................................................ BANK CLERK (9 : 00 AM to 01 : 00 PM) ..............................................................REET I & II LEVEL (12 : 30 PM to 05 : 30 PM).............................................................. Our site is currently under processing and updating . We will update all notes soon . Thank you

 

Current Affairs 09 Nov to 12 Nov 2017

1) 10 नवम्बर 2017 को गुवाहाटी (Guwahati) में हुई अपनी 23वीं बैठक में गुड्स एण्ड सर्विस टैक्स परिषद (GST Council) ने तमाम वस्तुओं पर लगी जीएसटी दर को घटाने की अहम घोषणा की। इस घोषणा के बाद अब जीएसटी के 28% के उच्चतम स्लैब में आने वाली वस्तुओं की संख्या कितनी रह गई है? – पचास (50)

विस्तार: केन्द्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में 10 नवम्बर 2017 को गुवाहाटी में जीएसटी परिषद की 23वीं बैठक में परिषद ने एक बड़ा निर्णय लेते हुए जीएसटी के 28% के उच्चतम स्लैब में आने वाली वस्तुओं की संख्या को घटाकर 50 कर दिया। इसके अलावा उसने जीएसटी रिटर्न फाइल करने की प्रक्रिया को आसान करने, रेस्टोरेण्ट्स पर लगायी जाने वाली GST दर को घटाने तथा कम्पोज़ीशन योजना (Composition Scheme) को छोटी फर्मों में विस्तारीकृत करने की घोषणा भी की।

उल्लेखनीय है कि अभी तक जीएसटी के 28% के उच्चतम स्लैब में 228 वस्तुएं शामिल थी। जीएसटी परिषद ने इनमें से 178 वस्तुओं को 18% के स्लैब में डाल दिया है जिसके बाद 28% स्लैब में सिर्फ 50 वस्तुएं रह गई हैं। यह बदलाव 15 नवम्बर 2017 से प्रभाव में लाया जायेगा।

28% स्लैब में आने वाली वस्तुएं जिन्हें 18% स्लैब में डाला गया है, में शामिल हैं – वायर व केबल, फर्नीचर, बेडिंग, मैट्रेस, सूटकेस, डिटर्जेन्ट, शैम्पू, फरफ्यूम, लैम्प, कलाई घड़ियाँ, मार्बल व ग्रेनाइट तथा इन्स्यूलेटेड प्लग। अब सभी रेस्टोरेण्ट्स (एसीव नॉन-एसी) पर 5% जीएसटी लगेगी, हालांकि 7,500 रुपए से अधिक की टैरिफ वाले होटलों के रेस्टोरेण्ट्स पर 18% जीएसटी इनपुट टैक्स क्रेडिट (input tax credit) के साथ लगाया जायेगा।

…………………………………………………………

2) कोलकाता (Kolkata) और बांग्लादेश के खुलना (Khulna) शहर के बीच शुरू की गई उस नई सीधी ट्रेन का क्या नाम है जिसका उद्घाटन भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने 9 नवम्बर 2017 को संयुक्त रूप से किया? – बंधन एक्सप्रेस (Bandhan Express)

विस्तार: “बंधन एक्सप्रेस” (Bandhan Express) उस नई यात्री ट्रेन सेवा का नाम है जो भारत के कोलकाता (Kolkata) को बांग्लादेश के खुलना (Khulna) से आपस में जोड़ने के उद्देश्य से 9 नवम्बर 2017 को शुरू की गई। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) और उनकी बांग्लादेशी समकक्ष शेख हसीना (Sheikh Hasina) ने संयुक्त रूप से एक वीडियो कांफ्रेंसिंग के द्वारा इस नई ट्रेन सेवा का उद्घाटन किया। यह ट्रेन कोलकाता और खुलना के मध्य की लगभग 172 किलोमीटर की दूरी को साढ़े चार घण्टे में पूरा करेगी।

यह एक पूर्णतया वातानुकूलित साप्ताहिक ट्रेन है तथा प्रत्येक गुरुवार (Thursday) को कोलकाता से खुलना जायेगी और खुलना से कोलकाता आयेगी। उल्लेखनीय है कि इस रूट पर यात्री-गाड़ियाँ और मालगाड़ियाँ स्वतंत्रता के बाद भी चलती रही थीं जब यह क्षेत्र पूर्वी पाकिस्तान (East Pakistan) कहलाता था। लेकिन 1965 के भारत-पाक युद्ध के बाद इन ट्रेन सेवाओं को बंद कर दिया गया था।

…………………………………………………………

3) केन्द्र सरकार ने 9 नवम्बर 2017 को केन्द्रीय कर्मचारियों द्वारा मकान निर्माण हेतु अग्रिम राशि के रूप में ली जाने वाली ऋण राशि की सीमा को तीन गुना से अधिक बढ़ा दिया। अब नई ऋण सीमा क्या है? – 25 लाख रुपए

विस्तार: केन्द्र सरकार ने केन्द्रीय कर्मचारियों द्वारा मकान निर्माण हेतु अग्रिम राशि (advance) के रूप में लिए जाने वाले ऋण सम्बन्धी नियमों में परिवर्तन सम्बन्धी दिशानिर्देश 9 नवम्बर 2017 को जारी कर दिए। इसके द्वारा सरकार देश में गृह-निर्माण क्षेत्र तथा निर्माण गतिविधियों को तेजी प्रदान करना चाहती है।

अब केन्द्रीय कर्मचारी मकान निर्माण हेतु अग्रिम राशि लेने की इस ऋण योजना (house building advance scheme) के तहत 25 लाख रुपए तक का ऋण ले सकते हैं। इस प्रकार सरकार ने अभी तक तय सीमा में तीन गुना से अधिक वृद्धि की है। इसके अलावा अब केन्द्र सरकार के तहत कार्यरत दम्पत्ति मिलकर अथवा अलग-अलग यह ऋण ले सकेंगे। अभी तक दोनों पति-पत्नी के कार्यरत होने पर सिर्फ एक को इस योजना के तहत ऋण मिलता था।

वहीं केन्द्र सरकार ने अपने मौजूदा आवासों के विस्तार (expansion) के लिए केन्द्रीय कर्मचारियों को प्रदत्त वित्तीय राशि की सीमा को उनके 34 माह के मूल वेतन (basic salary) के बराबर (अधिकतम 10 लाख रुपए तक) करने की घोषणा भी कर दी। यह राशि अभी तक मात्र 1.8 लाख रुपए थी।

इसके अलावा केन्द्रीय कर्मचारी द्वारा खरीदे या बनवाए जाने वाले मकान की अधिकतम लागत सीमा (cost ceiling limit of the house) को भी वर्तमान 30 लाख रुपए से बढ़ाकर 1 करोड़ रुपए कर दिया गया है। इसके अलावा उपयुक्त पाए जाने वाले मामलों में इस सीमा में भी 25% तक वृद्धि करने की व्यवस्था की गई है।

…………………………………………………………

4) सितम्बर 2017 में समाप्त हुई तिमाही के लिए जारी ग्राण्ट थॉर्नटन की अंतर्राष्ट्रीय बिज़नेस रिपोर्ट सर्वे (Grant Thornton’s International Business Report (IBR) survey) में व्यावसायिक आशावाद (Business Optimism) के लिए भारत को कौन से पायदान पर रखा गया है? – सातवें (Seventh)

विस्तार: व्यावसायिक आशावाद (Business Optimism) के मामले सितम्बर 2017 में समाप्त हुई तिमाही के लिए जारी ग्राण्ट थॉर्नटन की अंतर्राष्ट्रीय बिज़नेस रिपोर्ट सर्वे (Grant Thornton’s International Business Report (IBR) survey) में भारत को झटका लगा है तथा वह पिछली तिमाही में दूसरे स्थान से खिसक कर सातवें स्थान पर पहुँच गया है।

इस सर्वे में व्यवसायियों ने अगले एक वर्ष में अपने राजस्व के बारे में कम विश्वास दर्शाया है। इससे स्पष्ट होता है कि देश की अर्थव्यवस्था फिलहाल सुस्तचाल में है।

हालांकि यह भी उल्लेखनीय है कि सर्वे के आंकड़े सितम्बर 2017 में एकत्रित किए गए थे तथा केन्द्र सरकार ने इसके बाद कई बड़े सुधार जैसे बैंकों के पुनर्पूंजीकरण (Bank recapitalisation), इन्फ्रास्ट्रक्चर क्षेत्र में भारी निवेश, जीएसटी (GST) दरों में कमी, आदि की घोषणा की है, जिससे व्यावसायिक आशावाद में सुधार अपेक्षित है।

…………………………………………………………

5) 7 नवम्बर 2017 को की गई घोषणा के अनुसार संगीत के क्षेत्र में योगदान के लिए कौन सा शहर यूनेस्को (UNESCO) के क्रियेटिव सिटीज़ नेटवर्क (Creative Cities Network – CCN) में शामिल कर लिया गया जिससे वह इस प्रतिष्ठित नेटवर्क में शामिल होने वाला तीसरा भारतीय शहर बन गया है? – चेन्नई (Chennai)

विस्तार: तमिलनाडु की राजधानी और दक्षिण भारत के प्रमुख शहर चेन्नई (Chennai) को संगीत के क्षेत्र में अपने योगदान के लिए 7 नवम्बर 2017 को यूनेस्को (UNESCO) की क्रियेटिव सिटीज़ नेटवर्क (Creative Cities Network – CCN) में शामिल कर लिया गया। इससे पूर्व संगीत क्षेत्र तथा लोक कलाओं के क्षेत्र में योगदान के लिए भारत के दो शहरों – जयपुर (Jaipur) और वाराणसी (Varanasi) को इस सूची में शामिल किया गया है।

इस साल यूनेस्को की क्रियेटिव सिटीज़ नेटवर्क में शामिल किए जाने वाले दुनिया के अन्य शहर हैं – मिस्र का काहिरा (Cairo), दक्षिण अफ्रीका का केप टाउन (Cape Town), ब्रिटेन का मैनचेस्टर (Manchester) और इटली का मिलान (Milan)। उल्लेखनीय है कि इस प्रतिष्ठित सूची में शामिल करने के लिए चेन्नई का नाम तथा इसका डोज़ियेर केन्द्रीय संस्कृति मंत्रालय ने कुछ माह पूर्व यूनेस्को को भेजा था।

यूनेस्को की क्रियेटिव सिटीज़ नेटवर्क (CCN) में शामिल हो जाने के बाद इस नेटवर्क के शहरों को चार वर्षों तक अपनी विशेषताओं का प्रदर्शन करने के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन यूनेस्को की निगरानी में करना होता है। वर्तमान में इस नेटवर्क में दुनिया भर के 54 देशों के 116 सदस्य शहर शामिल हैं।

……………………………………………………………………

6) किस दिग्गज वैश्विक पेमेण्ट्स कम्पनी ने 8 नवम्बर 2017 को भारत में पेमेण्ट एग्रीगेटर (payment aggregator) के तौर पर अपना परिचालन शुरू करने की घोषणा की? – पेपाल (PayPal)

विस्तार: एलॉन मस्क (Elon Musk) और पीटर थील (Peter Thiel) द्वारा संस्थापित पेमेण्ट्स कम्पनी पेपाल (PayPal) जल्द ही भारत में अपनी सेवाओं की शुरूआत करेगी। यह घोषणा कम्पनी ने 8 नवम्बर 2017 को की। माना जा रहा है कि पेमेण्ट्स एग्रीगेटर के रूप में उसका मुख्य मुकाबला पेटीएम (Paytm) से होगा जिसे चीन के अलीबाबा (Alibaba) समूह का समर्थन हासिल है।

उल्लेखनीय है कि पेपाल ने लगभग दो दशक पहले अमेरिका में अपनी सेवाएं शुरू कर वहां के भुगतान परिदृश्य में एक भूचाल पैदा कर दिया था जिसने परंपरागत भुगतान माध्यमों जैसे बैंकों को काफी प्रभावित किया था। हालांकि कम्पनी भारत के लिए भी नई नहीं है। यह विदेश से भुगतान हासिल करने से सम्बन्धित प्रौद्यौगिकी की प्रमुख आपूर्तिकर्ता है। इसके अलावा कम्पनी ने दावा किया है कि उसकी भारत में वर्तमान में होने वाले सभी निर्यात सम्बन्धी बिज़नेस टू कंज़्यूमर लेन-देनों (B2C export transactions) में एक-तिहाई हिस्सेदारी है।

इस समय भारत में भुगतान क्षेत्र में कई खिलाड़ी अपनी सेवाओं का परिचालन कर रहे हैं जैसे – पेटीएम (Paytm), फोनपे (PhonePe), भारत सरकार का भीम (BHIM) एप्लीकेशन और गूगल की भुगतान सेवा, आदि।

……………………………………………………………………

7) कार्यस्थलों में यौन उत्पीड़न (Sexual harassment at workplaces) की समस्या के लिए महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने 8 नवम्बर 2017 को नामक एक ऑनलाइन शिकायत पोर्टल SHe-Box को शुरू किया। इस पोर्टल के नाम में प्रयुक्त शब्द (SHe-Box) का अर्थ क्या है? – सैक्सुअल हैरेसमेण्ट इलेक्ट्रॉनिक बॉक्स (Sexual Harassment electronic box)

विस्तार: केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गाँधी ने 8 नवम्बर 2017 को SHe-Box (Sexual Harassment electronic box) नामक ऑनलाइन शिकायत पोर्टल लाँच किया जिसका मुख्य उद्देश्य कार्यस्थलों में यौन उत्पीड़न के मामलों को हल करना है। इस पोर्टल का उपयोग सरकारी क्षेत्र में कार्यरत महिलाओं के अलावा निजी क्षेत्र में कार्यरत महिला कर्मी भी कर सकेंगी।

उल्लेखनीय है कि भारत में कार्यस्थल में यौन उत्पीड़न की समस्या व्याप्त होने का एक प्रमुख कारण यही है कि इसके खिलाफ कोई शिकायती प्रणाली (grievance redressal system) विद्यमान नहीं है। इससे ऐसे मामलों में लिप्त लोगों को विश्वास हो जाता है कि उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो सकती है।

इस शिकायत पोर्टल में एक बार शिकायत दर्ज होने के बाद उसे सम्बन्धित कार्यस्थल (कार्यालय) की आंतरिक शिकायत समिति (Internal Complaints Committee – ICC) को, शिकायतकर्ता को तथा महिला एवं बाल विकास मंत्रालय को भी भेजा जायेगा। शिकायतकर्ता तथा मंत्रालय शिकायत के निपटारे पर निगरानी रख सकेंगे। उल्लेखनीय है कि इस मामले में सम्बद्ध कानून (Sexual Harassment of Women at Workplace (Prevention, Prohibition and Redressal) Act, 2013) में यह प्रावधान किया गया है कि 10 तथा इससे अधिक कर्मचारियों को सेवायोजन देने वाले हर कार्यस्थल में ऐसी समस्याओं के लिए एक आंतरिक शिकायत समिति (ICC) होना अनिवार्य है।

……………………………………………………………………

8) स्तनधारी प्राणियों (mammals) के अब तक के सबसे पुराने जीवाश्म अवशेष (fossils), जिसकी आयु 14.5 करोड़ वर्ष आंकी गई है, हाल ही में किस देश में खोजे गए हैं? – इंग्लैण्ड (England)

विस्तार: इंग्लैण्ड (England) के पोर्ट्समाउथ (Portsmouth) स्थित डोरसेट तट (Dorset coast) की पहाड़ियों में श्रू (shrew) जैसे छोटे चूहे के दांतों के अवशेष हाल ही में खोजे गए हैं। इनके अधिकांश स्तनपायी जीवों के पाए गए जीवाश्म अवशेषों में सबसे प्राचीन होने का दावा किया गया है। पोर्ट्समाउथ यूनीवर्सिटी (Portsmouth University) के वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि यह जीवाश्म 14.5 करोड़ वर्ष (145 million years) पुराने हैं तथा किसी स्तनधारी प्राणी के इनसे अधिक प्राचीन जीवाश्म अभी तक नहीं पाए गए हैं। इनकी खोज ग्राण्ट स्मिथ (Grant Smith) द्वारा की गई थी, जोकि खोज के समय एक अण्डरग्रेजुएट छात्र थे।

यह जीवाश्म जिस प्राणी के हैं वे बेहद छोटे चूहे जैसे जीव थे जो संभवत: रात के अंधेरे में निकलते थे। उल्लेखनीय है कि अभी कुछ समय पूर्व चीन में वैज्ञानिकों ने दावा किया था कि उन्होंने लगभग 16 करोड़ वर्ष (160 million years) पुराने स्तनधारी जीव के जीवाश्म खोज निकाले हैं तथा ये इस श्रेणी के सबसे प्राचीन जीवाश्म हैं। लेकिन आणविक अध्ययनों (molecular studies) के आधार पर चीनी वैज्ञानिकों के इस दावे को सही नहीं माना गया है।

……………………………………………………………………

9) 8 नवम्बर 2017 को नागपुर (Nagpur) में सम्पन्न हुई 82वीं सीनियर राष्ट्रीय बैडमिण्टन चैम्पियनशिप (82nd Senior National Badminton Championship) में पुरुष तथा महिला एकल चैम्पियन कौन बने? – एच. एस. प्रणय (पुरुष) और साइना नेहवाल (महिला)

विस्तार: 8 नवम्बर 2017 को नागपुर में सम्पन्न हुई 82वीं सीनियर राष्ट्रीय बैडमिण्टन चैम्पियनशिप (82nd Senior National Badminton Championship) में पुरुष तथा महिला एकल दोनों वर्गों में कुछ अप्रत्याशित नतीजे सामने आए। पुरुष वर्ग में एच. एस. प्रणय (H.S Prannoy) ने शानदार फॉर्म में चल रहे विश्व के न. 2 खिलाड़ी किदम्बी श्रीकांत (Kidambi Srikanth) को 21-15, 16- 21, 21-7 से पराजित कर एक बड़ा उलटफेर किया। श्रीकांत इस खिताब के प्रबल दावेदार माने जा रहे थे।

वहीं महिला एकल वर्ग में पूर्व विश्व न. 1 साइना नेहवाल (Saina Nehwal) ने अपने पुराने अनुभव के खजाने का इस्तेमाल करते हुए इस खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रहीं मौजूदा विश्व न. 2 पी.वी. सिंधु (PV Sindhu) को 21-17, 27-25 से पराजित कर अपना तीसरा सीनियर राष्ट्रीय खिताब जीत लिया।

82वीं सीनियर राष्ट्रीय बैडमिण्टन चैम्पियनशिप का आयोजन नागपुर के डिवीज़नल स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में किया गया था।

……………………………………………………………………

http://churugurukul.com/current-affairs-01-nov-08-nov-2017