Call us now: (+91) 94135 68044

 Bank PO & Clerk New Batch Started.............................................................. Delhi / Rajasthan Police New Batch Started............................................................ BANK CLERK (9 : 00 AM to 01 : 00 PM) ..............................................................REET I & II LEVEL (12 : 30 PM to 05 : 30 PM).............................................................. Our site is currently under processing and updating . We will update all notes soon . Thank you

 

Current Affairs 09 Oct to 12 Oct 2017

1) वर्ष 2017 का अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार (2017 Nobel Prize for Economics) किस अर्थशास्त्री को प्रदान किया जायेगा, जिसके बारे में रॉयल स्वीडिश अकादमी ऑफ साइंसेज़ ने 9 अक्टूबर 2017 को घोषणा की? – रिचर्ड थेलर (Richard Thaler)

विस्तार: अमेरिकी अर्थशास्त्री रिचर्ड थेलर (Richard Thaler) को आर्थिक व्यवहार में मनोविज्ञान (Behavioural Economics) की भूमिका पर प्रकाश डालने के लिए वर्ष 2017 का अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार प्रदान किया जायेगा। 9 मिलियन स्वीडिश क्रोनर (लगभग 1.1 मिलियन अमेरिकी डॉलर) मूल्य का यह पुरस्कार उन्हें इसलिए दिया जा रहा है क्योंकि उनके अनुसंधान ने निर्णय की प्रक्रिया में आर्थिक और मनोवैज्ञानिक विश्लेषण के बीच सेतु बनाने का काम किया है। थेलर से जुड़ा एक और महत्वपूर्ण तथ्य यह है कि उन्होंने नवम्बर 2016 में भारत में नोटबंदी (Demonetization) के कदम का समर्थन किया था हालांकि इसके बाद 2000 रुपए के नोट को जारी करने को अनुचित बताया था।

उल्लेखनीय है कि अर्थशास्त्र के नोबेल पुरस्कार का आधिकारिक नाम ‘Sveriges Riksbank Prize in Economic Sciences’ है तथा इसकी स्थापना 1968 में की गई थी। डाइनेमाइट की खोज करने वाले वैज्ञानिक तथा व्यवसायी अल्फ्रेड नोबेल (Alfred Nobel) ने जब 1895 की वसीयत में इन पुरस्कारों की घोषणा की थी तब उसमें अर्थशास्त्र का नोबेल शामिल नहीं था।

………………………………………………………………

2) जीएसटी कम्पोज़ीशन योजना (GST Composition scheme) को अधिक आकर्षक बनाने और रेस्टॉरेण्ट्स में वसूली जाने वाली जीएसटी दरों को अधिक तार्किक बनाने के लिए इसका आकलन करने के लिए केन्द्र सरकार ने 6 अक्टूबर 2017 को राज्य के मंत्रियों के एक समूह (group of ministers – GoM) का गठन किया। इस समूह की अध्यक्षता किसे सौंपी गई है? – हिमंत बिश्व शर्मा (Himanta Biswa Sarma)

विस्तार: असम के वित्त मंत्री हिमंत बिश्व शर्मा (Himanta Biswa Sarma) को राज्य के मंत्रियों के उस समूह (GoM) का अध्यक्ष बनाया गया है जिसका गठन जीएसटी परिषद (GST Council) ने 6 अक्टूबर 2017 को करते हुए उसे जीएसटी कम्पोज़ीशन योजना को अधिक आकर्षक बनाने और रेस्टॉरेण्ट्स में वसूली जाने वाली जीएसटी दरों को अधिक तार्किक बनाने के लिए इसका आकलन करने का काम सौंपा है। इस समूह को 2 सप्ताह के भीतर अपनी रिपोर्ट देने को कहा गया है।

मंत्रियों के इस समूह में शामिल अन्य सदस्य हैं बिहार के उप-मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi), जम्मू व कश्मीर के वित्त मंत्री  हसीब ड्राबू (Haseeb Drabu), पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल (Manpreet Singh Badal) और छत्तीसगढ़ के वाणिज्य कर मंत्री अमर अग्रवाल (Amar Agrawal)।

उल्लेखनीय है कि जीएसटी के तहत पंजीकरण कराने वाले कुल 98 व्यवसायियों में से मात्र 15.50 ने जीएसटी कम्पोज़ीशन योजना के तहत पंजीकरण कराया है तथा अब केन्द्र सरकार उक्त योजना को अधिक आकर्षक बनाना चाहती है।

मंत्रियों के इस समूह को रेस्टोरेण्ट्स में वसूली जाने वाली जीएसटी दरों को भी अधिक तर्कसंगत बनाने का काम सौंपा गया है। फिलहाल वातानुकूलित रेस्टोरेण्ट्स में 18% जीएसटी तथा गैर-वातानुकूलित रेस्टोरेण्ट्स में 12% जीएसटी वसूली जा रही है।

………………………………………………………………

3) निजी क्षेत्र का कौन सा बैंक का बाजार पूंजीकरण (market capitalization) 9 अक्टूबर 2017 को 2 ट्रिलियन रुपए (2 trillion rupees) का आंकड़ा पार कर गया जिससे वह यह आंकड़ा पार करने वाला देश का चौथा बैंकिंग उपक्रम बन गया? – कोटक महिन्द्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank)

विस्तार: निजी क्षेत्र के कोटक महिन्द्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank) का बाजार पूँजीकरण (market capitalization) 9 अक्टूबर 2017 को 2 ट्रिलियन रुपए (2 लाख करोड़ रुपए) के आंकड़े को पार कर गया। इसके चलते यह बैंक यह आंकड़ा पार करने वाला देश का चौथा बैंक बन गया। इसके अलावा यह बैंक यह आंकड़ा पार करने वाली देश की 21वीं कम्पनी भी बन गया है।

इससे पहले एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank), आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) और भारतीय स्टेट बैंक (SBI) बाजार पूंजीकरण का यह आंकड़ा पार कर चुके हैं। वहीं कुल 5.29 ट्रिलियन बाजार पूंजीकरण के साथ रिलायंस इण्डस्ट्रीज़ लिमिटेड (RIL) भारत की सबसे मूल्यवान कम्पनी बनी हुई है तथा क्रमश: इसके बाद टाटा कनसल्टेंसी सर्विसेज़ – TCS (4.70 ट्रिलियन रुपए) और एचडीएफसी बैंक – HDFC Bank (4.64 ट्रिलियन रुपए) का स्थान है।

………………………………………………………………

4) अक्टूबर 2017 के दौरान जारी की गई ब्राण्ड फाइनेंस (Brand Finance) की दुनिया के सबसे मूल्यवान देशों की ‘Nation Brands 2017’ नामक रैंकिंग में भारत को किस पायदान पर रखा गया है? – आठवाँ

विस्तार: ब्राण्ड फाइनेंस की वर्ष 2017 की दुनिया की सबसे मूल्यवान देशों की रैंकिंग (Nation Brands 2017) में भारत पिछले साल के मुकाबले एक पायदान फिसल कर आठवें स्थान पर पहुँच गया है। पिछले साल आठवें स्थान पर काबिज कनाडा (Canada) ने भारत से सातवां स्थान छीन लिया है। भारत की ब्राण्ड कीमत में जहाँ 1 प्रतिशत की कमी आई वहीं कनाडा ने अपनी ब्राण्ड कीमत में 14% की वृद्धि की है।

इस सूची में अमेरिका (USA) पहले की तरह पहले स्थान पर है जबकि 2017 में सबसे तेज़ वृद्धि दर्ज करने वाला चीन (China) दूसरे स्थान पर है। इस साल चीन की ब्राण्ड वैल्यू में 44% की वृद्धि दर्ज हुई है।

………………………………………………………………

5) सुप्रसिद्ध फिल्म निर्देशक कुंदन शाह (Kundan Shah) का 69 वर्ष की आयु में 7 अक्टूबर 2017 को निधन हो गया। उनकी सर्वाधिक ख्याति किस फिल्म से मिली थी? – जाने भी दो यारों”

विस्तार: कुंदन शाह की फिल्म “जाने भी दो यारों” (‘Jaane Bhi Do Yaaro’) को भारतीय फिल्मों के इतिहास में एक मील का पत्थर माना जाता है। उन्होंने पुणे स्थित भारतीय फिल्म एवं टेलीविज़न संस्थान (FTII) में निर्देशन का कोर्स किया था तथा उसी समय संस्थान के तमाम कलाकारों को साथ लेकर 1983 में “जाने भी दो यारों” का निर्माण किया था।

हालांकि यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कोई विशेष उपलब्धि हासिल नहीं कर पाई थी लेकिन बाद में इसके अद्वितीय व्यंग्य तथा डार्क कॉमेडी के कारण इसकी गणना भारतीय फिल्म इतिहास की कुछ अभूतपूर्व फिल्मों में होने लगी।

कुंदन शाह की अन्य प्रमुख फिल्में हैं 1993 की “कभी हां – कभी ना” (जिसमें शाहरुख खान मुख्य अभिनेता थे) और वर्ष 2000 की “क्या कहना” जिसमें प्रीती ज़िंटा को एक बेहद सशक्त भूमिका में दिखाया गया था। उन्होंने 1986 में आए दूरदर्शन के बेहद लोकप्रिय सीरियल “नुक्क्ड़” का सह-निर्देशन भी किया था। इसके बाद उनके सह-निर्देशन में आया एक और बेहद लोकप्रिय सीरियल “वागले की दुनिया” था जिसमें आम-आदमी के जीवन को बेहद खूबसूरती से दिखाया गया था।

………………………………………………………………

6) पूर्व संचालित टीकाकरण अभियानों में छूट गए दो वर्ष से कम आयु के प्रत्येक बच्चे तथा गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण कराने के लिए केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने तीव्र मिशन इंद्रधनुष (Intensified Mission Indradhanush – IMI) 8 अक्टूबर 2017 को शुरू किया। इस अभियान को कहाँ लाँच किया गया? – वडनगर (गुजरात)

विस्तार: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 8 अक्टूबर 2017 को अपने गृहनगर गुजरात के वडनगर (Vadnagar) में टीकाकरण से सम्बन्धित इन्द्रधनुष मिशन के नए तीव्र स्वरूप को लाँच किया। इस मिशन का मुख्य उद्देश्य पूर्व संचालित टीकाकरण अभियानों में छूट गए दो वर्ष से कम आयु के प्रत्येक बच्चे तथा गर्भवती महिलाओं को टीकाकरण प्रदान कर उन्हें तमाम बचाव-योग्य बीमारियों से बचाना है।

इस अभियान के विशेष चरण में देश के चुनिंदा जिलों और शहरों में पूर्ण टीकाकरण के द्वारा दिसम्बर 2018 तक देश के 90% बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को टीकाकरण के तहत लाने का प्रयास किया जायेगा। उल्लेखनीय है कि 90% टीकाकरण हासिल करने का प्रारंभिक लक्ष्य वर्ष 2020 था लेकिन Intensified Mission Indradhanush के चलते इस समयसीमा को घटाया गया है।

…………………………………………………………………….

7) बिम्स्टेक (BIMSTEC) देशों की आपदा प्रबन्धन पर पहली बैठक 10 अक्टूबर 2017 को कहाँ शुरू हुई? – दिल्ली

विस्तार: बिम्स्टेक देशों की आपदा प्रबन्धन पर आयोजित पहली बैठक (First disaster management exercise) दिल्ली में 10 अक्टूबर 2017 से शुरू हुई। 13 अक्टूबर 2017 तक चलते वाली इस बैठक में बिम्स्टेक देशों में आपदाओं से सम्बधित जोखिमों को कम करने तथा आपदाओं का सामना मिलकर सहयोगपूर्ण तरीके से करने पर संगठन के देश अपने-अपने विचारों को साझा करेंगे।

बिम्स्टेक (BIMSTEC) का अर्थ है – Bay of Bengal Initiative for Multi-Sectoral Technical and Economic Cooperation तथा इसमें दक्षिण एवं दक्षिण पूर्व एशियाई देश शामिल हैं। ये देश हैं – बांग्लादेश, भारत, म्यांमार, श्रीलंका, थाईलैण्ड, भूटान और नेपाल।

…………………………………………………………………….

8) किस प्रमुख भारतीय टेलीकॉम कम्पनी ने अक्टूबर 2017 के दौरान अपना परिचालन (operations) बंद करने की आधिकारिक घोषणा की जिसके चलते कम्पनी में कार्यरत लगभग 5,000 कर्मचारियों की नौकरी का संकट पैदा हो गया है? – टाटा टेलीसर्विसेज़ लिमिटेड (Tata Teleservices Limited – TTSL)

विस्तार: टाटा टेलीसर्विसेज़ लिमिटेड (TTSL), जोकि बेहद विविधीकृत समूह टाटा सन्स (Tata Sons) का टेलीकॉम व्यवसाय है, अपना परिचालन बंद कर रहा है। कम्पनी ने 10 अक्टूबर 2017 को आधिकारिक तौर पर इसकी स्वीकारोक्ति की। इस कम्पनी का सर्वप्रमुख उपक्रम टाटा डोकोमो (Tata DoCoMo) है जबकि इसके अलावा इसके नियंत्रण में आने वाले अन्य उपक्रम हैं – टी24 मोबाइल (T24 Mobile), वायरलेस टाटा टेलीकॉम इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (Wireless Tata Telecom Infrastructure Limited) और वर्जिन मोबाइल इण्डिया प्राइवेट लिमिटेड (Virgin Mobile India Pvt. Limited)।

टाटा टेलीसर्विसेज़ लिमिटेड को बंद करने का निर्णय टाटा समूह द्वारा अपने 149 वर्षों के अस्तित्व में इतने कर्मचारियों को प्रभावित करने वाला सबसे बड़ा निर्णय माना जा रहा है।

वैसे कम्पनी ने अपने लगभग 5,000 कर्मचारियों को बाहर करने के लिए कई विकल्प पहले से ही शुरू किए थे जैसे 3 से 6 माह के नोटिस, कम्पनी छोड़ने वालों के लिए severance पैकेज, तथा वरिष्ठ कर्मचारियों के लिए स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (VRS), आदि। इसके अलावा कम्पनी अपने बहुत थोड़े से चुनिंदा कर्मचारियों को समूह की दूसरी कम्पनियों में भी भेजने पर भी काम कर रही है।

…………………………………………………………………….

9) कौन सा देश 9 अक्टूबर 2017 को 2018 के फीफा फुटबॉल विश्व कप (2018 FIFA World Cup) के मुख्य चरण के लिए क्वालीफाई कर यह उपलब्धि हासिल करने वाला अब तक का सबसे छोटा देश बन गया? – आइसलैण्ड (Iceland)

विस्तार: आइसलैण्ड (Iceland) फीफा विश्व कप के मुख्य दौर के लिए क्वालीफाई करने वाला अब तक का सबसे छोटा देश बन गया जब 9 अक्टूबर 2017 को उसने कोसोवो (Kosovo) को 2-0 से हराया तथा अपने ग्रुप में सबसे ऊपर रहा। यह पहला मौका है जब आइसलैण्ड ने इस प्रतिष्ठित फुटबॉल प्रतियोगिता के फाइनल चरण के लिए क्वालीफाई किया है। अब वह 2018 के फीफा विश्व कप में खेलेगा जिसका आयोजन रूस (Russia) में किया जायेगा।

उल्लेखनीय है कि मात्र 3 लाख 34 हजार जनसंख्या वाले आइसलैण्ड में पंजीकृत फुटबॉल खिलाड़ियों की संख्या लगभग 20 हजार है। वर्ष 2016 की यूएफा यूरोपीय चैम्पियनशिप (UEFA European Championship) में भाग लेना आइसलैण्ड की अब तक की सबसे बड़ी उपलब्धि थी तथा इसमें उसने इंग्लैण्ड सरीखी टीम को हराकर अंतिम-आठ चरण (quarter-finals) में जगह बनाने में सफलता हासिल की थी।

…………………………………………………………………….

10) फेसबुक (Facebook) के भारत व दक्षिण-एशिया क्षेत्र के प्रबन्ध निदेशक (Managing Director) पद से 10 अक्टूबर 2017 को इस्तीफा देने वाले अधिकारी का क्या नाम है? – उमंग बेदी (Umang Bedi)

विस्तार: दिग्गज सोशल मीडिया कम्पनी फेसबुक (Facebook) के भारत व दक्षिण-एशिया क्षेत्र के प्रबन्ध निदेशक (MD) पद पर तैनात उमंग बेदी (Umang Bedi) ने 10 अक्टूबर 2017 को यह पद छोड़ने की घोषणा कर दी। उन्होंने जुलाई 2016 में ही फेसबुक में यह पद संभाला था तथा उससे पूर्व वे एडोब सिस्टम्स इंक. (Adobe Systems Inc.) में दक्षिण एशिया के प्रबन्ध निदेशक थे। फेसबुक में इस पद पर रहते हुए उनके पास फेसबुक के व्यवसाय को दक्षिण एशिया क्षेत्र में विस्तारित करने की अहम जिम्मेदारी थी।

फेसबुक अब जब तक बेदी के उत्तराधिकारी का चयन करेगी तब तक उनकी जिम्मेदारी संदीप भूषण (Sandeep Bhushan) निभायेंगे जो फेसबुक दक्षिण एशिया में कंज़्यूमर एण्ड मीडिया (consumer and media) के निदेशक (Director) हैं।

…………………………………………………………………….

http://www.churugurukul.com/current-affairs-01-oct-08-oct-2017