Call us now: (+91) 94135 68044 | churugurukul@gmail.com

Current Affairs 11 - 12 February 2017

1) भारत के पूँजी बाजार की नियामक संस्था भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (SEBI) का नया अध्यक्ष (Chairman) किसे नियुक्त किया गया है? – अजय त्यागी (Ajay Tyagi)

विस्तार: केन्द्र सरकार ने 10 फरवरी 2017 को अजय त्यागी (Ajay Tyagi) को भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (Securities and Exchange Board of India – SEBI) का नौवां अध्यक्ष (9th Chairman) नियुक्त कर दिया। उनकी नियुक्ति को केन्द्रीय कैबिनेट की नियुक्ति समिति (Appointments Committee of the Cabinet – ACC) ने अधिकतम 5 वर्ष के लिए स्वीकृति प्रदान की।

 अजय त्यागी वर्तमान में आर्थिक मामलों के मंत्रालय (Department of Economic Affairs) में अतिरिक्त सचिव (Additional Secretary) हैं। वे यू.के. सिन्हा (U.K. Sinha) का स्थान लेंगे जो 18 फरवरी 2017 को सेवानिवृत्त हो रहे हैं।

 वे हिमाचल प्रदेश कैडर से 1984 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) के अधिकारी हैं। हालांकि पूँजी बाजार में काम करने का उनका अनुभव उनकी वर्तमान तैनाती तक ही सीमित है। वे इस पद पर अक्टूबर 2014 से तैनात हैं।

 उल्लेखनीय है कि अजय त्यागी वर्ष 2002 के बाद SEBI के पहले अध्यक्ष होंगे जिन्हें 5 वर्ष के कार्यकाल के लिए अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। SEBI के प्रथम चार अध्यक्षों को 3 वर्ष के लिए नियुक्त किया गया था। निवर्तमान अध्यक्ष यू.के. सिन्हा को भी तीन वर्ष के लिए नियुक्त किया गया था लेकिन उनके कार्यकाल को बाजार में अस्थिरता के माहौल के चलते पहले 2 वर्ष और फिर 1 वर्ष बढ़ाया गया था।

…………………………………………………………………………….

2) केन्द्रीय कैबिनेट ने 8 फरवरी 2017 को “प्रधानमंत्री ग्रामीण डिज़िटल साक्षरता अभियान” (‘Pradhan Mantri Gramin Digital Saksharta Abhiyan’) नामक एक नए मिशन को अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी। इस मिशन का सर्वप्रमुख उद्देश्य क्या है? – मार्च 2019 तक देश भर के 6 ग्रामीणों को डिज़िटल साक्षरता प्रदान करना

विस्तार: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में 8 फरवरी 2017 को आहूत केन्द्रीय कैबिनेट की बैठक में “प्रधानमंत्री ग्रामीण डिज़िटल साक्षरता अभियान” (‘Pradhan Mantri Gramin Digital Saksharta Abhiyan’ – PMGDISHA) को हरा झण्डी दिखा दी गई। इस अभियान के द्वारा देश भर के 6 करोड़ ग्रामीण परिवारों को डिज़िटल साक्षरता (Digital Literacy) प्रदान की जायेगी।

 इस महात्वाकांक्षी अभियान के लिए करोड़ रुपए का व्यय कर 6 करोड़ लोगों को मार्च 2019 तक डिज़िटल साक्षरता के तहत लाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उल्लेखनीय है कि इस अभियान की मूल घोषणा वर्ष 2016-17 के आम बजट में की गई थी।

 माना जा रहा है कि “प्रधानमंत्री ग्रामीण साक्षरता अभियान” दुनिया का अब का सबसे बड़ा डिज़िटल साक्षरता अभियान होगा। अभियान के तहत चालू वित्तीय वर्ष (2016-17) में 25 लाख लोगों को डिज़िटल साक्षरता प्रदान की जा रही है। वर्ष 2017-18 में 2.75 करोड़ तथा वर्ष 2018-19 में 3 करोड़ लोगों को डिज़िटल साक्षरता प्रदान करने का लक्ष्य रखा गया है।

 इस अभियान की पहुँच में समानता कायम करने के लिए देश की प्रत्येक 2,50,000 ग्राम पंचायतों को अपनी तरफ से औसतन 200 से 300 व्यक्तियों का इसमें पंजीकरण करना पड़ेगा। अभियान के माध्यम से डिज़िटल साक्षरता हासिल करने वाले व्यक्ति कम्प्यूटर व अन्य डिज़िटल डिवासेज़ (जैसे टैबलेट, स्मार्टफोन, आदि) का इस्तेमाल तमाम कार्यों के लिए करने में सक्षम हो जायेंगे जैसे ई-मेल भेजना तथा प्राप्त करना, इंटरनेट चलाना, सरकारी सेवाओं के पोर्टल का संचालन करना, सूचना को सर्च करना तथा विभिन्न प्रकार के नकदहीन लेन-देन (cashless transactions) करना।

…………………………………………………………………………….

3) भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने 8 फरवरी 2017 को प्रस्तुत अपनी छठवीं द्वि-मासिक मौद्रिक नीति समीक्षा में मुद्रास्फीति की स्थिति को ध्यान में रखते हुए रेपो दर (Repo Rate) को 6.5% पर यथावत रखा। इसके चलते रिवर्स रेपो दर (Reverse Repo Rate) भी 5.5% पर यथावत रहेगी। इस समीक्षा में RBI ने किस तिथि से नकद निकासी (cash withdrawal) पर लगी सभी सीमाओं (limits) को समाप्त करने की घोषणा की? – 13 मार्च 2017 से

विस्तार: 8 फरवरी 2017 को प्रस्तुत छठवीं द्वि-मासिक मौद्रिक नीति समीक्षा में RBI ने घोषणा की कि 28 फरवरी 2017 से बचत खातों (saving accounts) की साप्ताहिक नकद निकासी सीमा (weekly withdrawal limits) को वर्तमान 24,000 रुपए से बढ़ाकर 50,000 रुपए कर दिया जायेगा। वहीं 13 मार्च 2017 से नकद निकासी की समस्त सीमाओं को पूरी तरह से समाप्त कर दिया जायेगा। उल्लेखनीय है कि RBI ने चालू खातों की नकद निकासी सीमा को 1 फरवरी 2017 से समाप्त कर दिया था। यह तमाम निकासी सीमाएं 8 नवम्बर 2016 को घोषित विमुद्रीकरण (Demonetization) के बाद लगाई गई थीं।

 वहीं मौद्रिक नीति के मोर्चे पर RBI ने देश के वित्तीय बाजारों को चौंकाते हुए रेपो दर में किसी भी प्रकार की कमी से इंकार करते हुए इसे 6.5% पर यथावत रखा। तमाम वित्तीय विशेषज्ञ यह मान कर चल रहे थे कि RBI रेपो दर में कम से कम 25 आधार अंकों की कमी कर अर्थव्यवस्था में चल रही मंदी तथा विमुद्रीकरण के प्रभाव को कम करने का प्रयास करेगा।

 RBI के अनुसार वित्तीय वर्ष 2017-18 के प्रथम भाग में मुद्रास्फीति 4% से 4.5% के बीच रहने का अनुमान है जबकि दूसरे भाग में यह दर 4.5% से 5.0% के बीच रहेगी।

…………………………………………………………………………….

4) जापान के अनुसंधानकर्ताओं ने इंटरनेट डेटा स्पीड में एक ऐसी प्रौद्यौगिकी विकसित करने का दावा किया है जिसके चलते 5G के मुकाबले 10 गुना अधिक डेटा स्पीड हासिल हो सकेगी। परीक्षण के दौर से गुजरने वाली इस तकनीक को क्या प्रारंभिक नाम दिया गया है? –टेराहर्ट्ज़ डेटा ट्रांसमिशन (Terahertz (THz) Data Transmission)

विस्तार: जापान की हीरोशिमा यूनीवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने एक ऐसा डेटा ट्रांसमीटर विकसित करने का दावा किया है जो 290 GHz से 315 GHz की प्रीक्वेंसी सीमा में 105 गीगाबाइट्स डेटा प्रति सेकेण्ड (105 Gbps) भेजने में सक्षम होगा। यह आश्चर्यजनक गति प्रस्तावित 5G इंटरनेट सेवा के मुकाबले 10 गुना तक तेज है।

 उल्लेखनीय है कि भारत समेत दुनिया भर के देशों में वर्तमान में प्रचलित 4G LTE सेवा की गति जहाँ 50 मेगाबाइट्स प्रति सेकेण्ड (50 Mbps) तक है वहीं वर्ष 2020 से वैश्विक स्तर पर शुरू की जाने वाली 5G सेवा की डेटा गति न्यूनतम 3 गीगाबाइट्स प्रति सेकेण्ड (3 Gbps) से अधिकतम 50 गीगाबाइट्स प्रति सेकेण्ड (50 Gbps) तक रहने का अनुमान लगाया जा रहा है। वहीं जापानी शोधकर्ताओं द्वारा विकसित टेराहर्ट्ज़ डेटा ट्रांसमिशन (Terahertz (THz) Data Transmission) की गति 5G की औसत गति से लगभग 10 गुना तेज है।

…………………………………………………………………………….

5) थॉमसन रॉयटर्स द्वारा फरवरी 2017 के दौरान जारी आंकड़ों के अनुसार भारत (India) द्वारा किए जाने वाले गेँहू आयात (wheat imports) ने कौन सा अहम स्तर पार किया है जोकि पिछले एक दशक का सर्वाधिक आयात स्तर है? – 5 मिलियन टन (50 लाख टन)

विस्तार: वित्तीय सूचना व आंकड़ों से सम्बन्धित प्रमुख सेवा थॉमसन रॉयटर्स (Thomson Reuters) द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2016 के मध्य से अब तक भारत ने 50 लाख टन (5 million tonnes) गेँहू (wheat) का आयात किया है। यह पिछले एक दशक में किसी वर्ष का सर्वाधिक गेँहू आयात का आंकड़ा है। उल्लेखनीय है कि भारत दुनिया में गेँहू का दूसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता देश है।

 लगातार दो वर्षों तक खराब मौसम के चलते पैदावार में आई कमी के मद्देनज़र भारत ने वर्ष 2016 के मध्य से विदेशों से गेँहू आयात करने की रफ्तार को बढ़ाया था।

 वर्ष 2006-07 के दौरान भारत ने 67 लाख टन गेँहू का आयात किया था। उसके बाद गेँहू का सर्वाधिक आयात इसी वर्ष (2016-17) में हुआ है। भारत में गेँहू का अधिकांश आयात यूक्रेन और ऑस्ट्रेलिया से होता है। लेकिन अब आयात की मात्रा में कमी आने लगी है क्योंकि नई फसल का गेँहू कुछ समय बाद बाजार में उपलब्ध होने लगेगा।

…………………………………………………………………………….

6) होटल व्यवसाय में संलिप्त टाटा समूह की कम्पनी इण्डियन हॉटेल्स कम्पनी लिमिटेड (IHCL) अपने किन दो प्रमुख होटल ब्राण्डों को समाप्त कर इन्हें “ताज” (‘Taj’) होटल ब्राण्ड के तहत लायेगी, जैसा कि कम्पनी ने 9 फरवरी 2017 को घोषणा की? – “विवान्ता” और “गेटवे”

विस्तार: “ताज” (‘Taj’) होटल ब्राण्ड की स्वामी टाटा समूह (Tata Group) की कम्पनी इण्डियन हॉटेल्स कम्पनी लिमिटेड (Indian Hotels Company Ltd – IHCL) ने निर्णय लिया है कि वह अपने दो ब्राण्डों “विवान्ता” (‘Vivanta’) और “गेटवे” (‘Gateway’) को अब “ताज” ब्राण्ड के अंतर्गत एकीकृत कर दुनिया भर में फैले अपने सभी होटलों को एक ब्राण्ड के तहत संचालित करेगी। यह दोनों ब्राण्ड पिछले लगभग एक दशक से कम्पनी द्वारा संचालित किए जा रहे थे। “विवान्ता” ब्राण्ड को 2010 में शुरू किया गया था वहीं “गेटवे” ब्राण्ड 2008 में शुरू किया गया था।

 कम्पनी अपने सभी होटलों को उनकी अवस्थिति तथा प्रकृति के अनुसार 4 श्रेणियों में “ताज” ब्राण्ड के अंतर्गत संचालित करेगी – होटल, पैलेस, रिसॉर्ट और साफारी।

 इण्डियन हॉटेल्स कम्पनी लिमिटेड ने अपने ब्राण्डों को एक ध्वज तले लाने का निर्णय ऐसे समय में लिया है जब तमाम अंतर्राष्ट्रीय होटल ब्राण्ड भारत में उसे तगड़ी चुनौती दे रहे हैं। यहाँ यह भी उल्लेखनीय है कि होटल के कमरों की संख्या के आधार पर भारत के सबसे बड़े होटल समूह के रूप में IHCL की पदवी तब छिन गई थी जब सितम्बर 2016 के दौरान स्टारवुड होटल्स एण्ड रिसॉर्ट (Starwood Hotels and Resorts) और मैरियट इंटरनेशनल (Marriott International) का विलय हो गया था।

…………………………………………………………………………….

7) अमेरिका के किस बैंक ने पिछले एक माह के दौरान तीन ऐसी बैंक शाखाएं खोली हैं जिनमें कोई कर्मचारी नहीं है तथा ग्राहक ATM तथा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा अन्य शाखाओं के कर्मचारियों की मदद से अपनी बैंकिंग सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं? – बैंक ऑफ अमेरिका (Bank of America)

विस्तार: जनवरी-फरवरी 2017 के दौरान अमेरिका के दिग्गज बैंक प्रतिष्ठान बैंक ऑफ अमेरिका (Bank of America) ने तीन ऐसी शाखाएं अमेरिका में खोली हैं जहाँ कोई कर्मचारी तैनात नहीं है। वहाँ बैंकिंग सम्बन्धित सारा काम अत्याधुनिक उपकरणों द्वारा सम्पन्न कराया जाता है तथा कर्मचारी की आवश्यकता पड़ने पर किसी दूसरी शाखा के कर्मचारी की वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से मदद ली जा सकती है। अपने इस कदम से बैंक ऑफ अमेरिका ने बैंक शाखाओं में तैनात कर्मचारियों के खर्च को कम करने की दिशा में एक बड़ा कदम लिया है।

 इस प्रकार की शाखाओं का आकार अपेक्षाकृत छोटा होता है तथा यह तकनीक का इस्तेमाल कहीं अधिक किया जाता है। एक और खास बात है कि ऐसी शाखाओं के द्वारा जोर मूलभूत बैंकिंग लेन-देन के बजाय मॉर्टगेज (mortgage), क्रेडिट कार्ड (credit card) तथा ऑटो लोन (auto loan) जैसे उत्पादों को बेचने पर रहेगा।

…………………………………………………………………………….

8) भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने अपने शानदार करियर में एक और रिकॉर्ड 10 फरवरी 2017 को जोड़ा जब बांग्लादेश के खिलाफ 204 रन बनाकर वे दुनिया के ऐसे पहले बल्लेबाज बन गए जिन्होंने एक टेस्ट सत्र (Test season) में लगातार चार श्रृंखलाओं में लगातार चार दोहरे शतक लगाए हैं। उन्होंने इस क्रम में किन दो महान खिलाड़ियों का तीन दोहरे-शतक का रिकॉर्ड तोड़ दिया? –सर डॉन ब्रेडमैन और राहुल द्रविड़

विस्तार: अभी तक एक टेस्ट सत्र में तीन दोहरे शतक लगाने का रिकॉर्ड तीन बल्लेबाजों के नाम संयुक्त रूप से दर्ज था – ऑस्ट्रेलिया (Australia) के महान बल्लेबाज सर डॉन ब्रेडमैन (Sir Don Bradman), भारत के दिग्गज बल्लेबाज राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) और विराट कोहली (Virat Kohli)। लेकिन कोहली ने 10 फरवरी 2017 को बांग्लादेश के साथ हैदराबाद (HYderabad) में हो रहे एकमात्र टेस्ट-मैच में 204 रन बनाकर डॉन ब्रेडमैन और राहुल द्रविड़ को पीछे छोड़ दिया तथा वे एक सत्र में लगातार चार श्रृंखलाओं में लगातार चार दोहरे शतक लगाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए।

 उल्लेखनीय है कि कोहली ने इस सत्र में अपने करियर का पहला दोहरा शतक (200 रन) वेस्ट इण्डीज़ (West Indies) के खिलाफ जुलाई 2016 में लगाया था। इसके बाद उन्होंने अक्टूबर 2016 में न्यूज़ीलैण्ड के खिलाफ 211 रन की पारी खेली। इंग्लैण्ड (England) के खिलाफ दिसम्बर 2016 में उन्होंने अपनी सर्वाधिक रन वाली पारी (235 रन) खेली थी। अब बांग्लादेश के खिलाफ 204 रन बनाकर उन्होंने एक नया इतिहास कायम कर दिया।

 इस क्रम में विराट कोहली ने एक और कीर्तिमान एक टेस्ट सत्र में सर्वाधिक रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज बनने का बनाया। उन्होंने वीरेन्द्र सहवाग (Virendra Sehwag) का वर्ष 2005-06 का रिकॉर्ड तोड़ दिया जिसमें उन्होंने सत्र के दौरान कुल 1105 रन का रिकॉर्ड बनाया था।

…………………………………………………………………………….

http://churugurukul.com/current-affairs-09-10-february-2017