Call us now: (+91) 94135 68044

 Bank PO & Clerk New Batch Started.............................................................. Delhi / Rajasthan Police New Batch Started............................................................ BANK CLERK (9 : 00 AM to 01 : 00 PM) ..............................................................REET I & II LEVEL (12 : 30 PM to 05 : 30 PM).............................................................. Our site is currently under processing and updating . We will update all notes soon . Thank you

 

Current Affairs 19 - 20 April 2017

1) भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) द्वारा अप्रैल 2017 के दौरान जारी आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2016-17 के दौरान बैंकों द्वारा प्रदत्त ऋण की वृद्धि दर (bank credit growth rate) 5.1% रही। इस आंकड़े से जुड़ा एक अहम पहलू क्या है? – ये पिछले 60 वर्षों से अधिक समय में सबसे धीमी बैंक ऋण वृद्धि दर है

विस्तार: 14 अप्रैल 2017 को RBI द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार 31 मार्च 2017 को भारतीय बैंकों द्वारा प्रदत्त कुल ऋण (outstanding bank credit) 78.82 लाख करोड़ रुपए था। इस प्रकार पूरे वित्तीय वर्ष में बैंकों द्वारा प्रदत्त ऋण की वृद्धि दर 5.1% रही जो पिछली साल की दर 10.3% के मुकाबले काफी कम है। इसी के साथ यह पिछले 6 दशक से भी अधिक समयावधि में बैंकिंग ऋण वृद्धि की सबसे धीमी दर थी। इससे पहले वर्ष 1953-54 में यह दर मात्र 1.7% थी।

 वैसे भारतीय बैंकिंग क्षेत्र के समक्ष काफी समस्याएं खड़ी हैं। बुरे ऋण (bad loans) के बढ़ने तथा कॉर्पोरेट निवेश में कमी आने के अलावा विमुद्रीकरण (demonetization) के कारण बैंकों द्वारा प्रदत्त ऋण की रफ्तार कम हुई है। वहीं बैंक अत्यधिक तरलता (liquidity) की समस्या से भी जूझ रहे हैं क्योंकि विमुद्रीकरण के बाद लोगों में अपना धन बैंकों में रखने की प्रवृत्ति बढ़ी है।

………………………………………………………..

2) बाजार पूँजीकरण (Market capitalization) की दृष्टि से भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने 18 अप्रैल 2017 को क्या अहम मुकाम हासिल किया? – SBI इस दिन सर्वाधिक बाजार पूँजीकरण वाला सार्वजनिक उपक्रम (PSU) बन गया

विस्तार: 18 अप्रैल 2017 को भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के शेयर मूल्य में 2% की वृद्धि के साथ इसका भाव 296 रुपए के स्तर पर पहुँच गया। इसी के साथ SBI सर्वाधिक बाजार पूँजीकरण वाला देश का सार्वजनिक क्षेत्र का उपक्रम (most valued PSU by market capitalization) बन गया। इस वर्ष अभी तक SBI के शेयर मूल्य में लगभग 18% की वृद्धि हुई है तथा इसने बैंचमार्क इंडेक्स के 11.5% के मुकाबले अधिक रिटर्न निवेशकों को दिया है।

 उल्लेखनीय है कि 18 अप्रैल 2017 को लगभग सभी बैंकों के मूल्यों में वृद्धि हुई जिसका प्रमुख कारण भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) द्वारा प्रॉम्प्ट करेक्टिव एक्शन (Prompt Corrective Action – PCA) की दिशा में एक एक्शन-प्लान की घोषणा करना माना जा रहा है। इसके अलावा पिछली कुछ तिमाहियों में बैंकों के संचालन तथा वित्तीय प्रदर्शन में भी सुधार आया है।

………………………………………………………..

3) ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने 18 अप्रैल 2017 को विदेशी कामगारों (foreign workers) को एक बड़ा झटका देते हुए उस वीज़ा कार्यक्रम को रद्द करने की घोषणा कर दी जिसके माध्यम से वहाँ लगभग 95,000 अस्थाई विदेशी कामगार काम कर रहे थे, जिनमें से सबसे बड़ी संख्या भारतीयों की थी। इस वीज़ा कार्यक्रम का नाम क्या है? – “वीज़ा 457”

विस्तार: “वीज़ा 457” (‘Visa 457’) ऑस्ट्रेलियाई सरकार द्वारा संचालित एक ऐसा वीज़ा कार्यक्रम (Australian visa programme) था जिसके तहत ऑस्ट्रेलियन कम्पनियाँ ऐसे कामों में चार वर्ष तक की अवधि के लिए विदेशी कामगारों को नौकरी प्रदान कर सकती थीं जिनके लिए ऑस्ट्रेलियाई कामगारों की अपेक्षित संख्या उपलब्ध नहीं है।

 यह वीज़ा कार्यक्रम भारतीय कामगारों में खासा लोकप्रिय था इसके द्वारा सर्वाधिक सेवायोजन (employment) के अवसर भी भारतीय कामगारों को हासिल हुए थे। इसके बाद क्रमश: ब्रिटेन और चीन के कामगारों की सर्वाधिक संख्या थी।

 लेकिन ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री मैलकम टर्नबुल (Prime Minister Malcolm Turnbull) ने 18 अप्रैल 2017 को “वीज़ा 457” कार्यक्रम को रद्द करने की घोषणा कर दी और कहा कि ऑस्ट्रेलिया में नौकरी के लिए पहली प्राथमिकता ऑस्ट्रेलियाई नागरिकों को ही मिलनी चाहिए। अब इस वीज़ा कार्यक्रम के स्थान पर एक नया वीज़ा कार्यक्रम प्रस्तुत किया जायेगी जिसमें विदेशी कामगारों के काम करने पर तमाम कड़ी शर्तों को लगाए जाने की संभावना है।

………………………………………………………..

4) 18 अप्रैल 2017 को जारी हुआवेई ग्लोबल कनेक्टिविटी इंडेक्स (Huawei Global Connectivity Index) के चौथे संस्करण में भारत को दुनिया भर में कौन सा स्थान प्रदान किया गया? – 43वाँ

विस्तार: वर्ष 2017 के हुआवेई ग्लोबल कनेक्टिविटी इंडेक्स (Huawei Global Connectivity Index (GCI) में भारत पिछले साल के मुकाबले एक पायदान ऊपर चढ़कर 43वें स्थान पर है। यह इस वैश्विक सूचकांक का चौथा संस्करण था तथा इसके द्वारा देशों को वहाँ हो रहे डिज़िटल बदलावों (digital transformation) के 40 विशिष्ट संकेतकों (40 unique indicators) के आधार पर स्थान प्रदान किया जाता है। इन संकेतकों को कुल पाँच प्रमुख टैक्नोलॉजी अवयवों के पैमाने पर तैयार किया जाता है, जो हैं – ब्रॉडबैण्ड, डेटा सेंटर्स, क्लाउड, बिग डेटा और इंटरनेट ऑफ थिंग्स।

 GCI के इस संस्करण में पहले स्थान पर अमेरिका (US) है जबकि सिंगापुर (Singapore) और स्वीडन (Sweden) उससे थोड़ा ही पीछे हैं। जहाँ तक भारत की बात है तो भारत जहाँ ज्ञान-आधारित अर्थव्यवस्था (knowledge economy) के संकेतकों के आधार पर अच्छा प्रदर्शन कर पाया वहीं ब्रॉडबैण्ड पैमानों पर पिछड़ गया।

………………………………………………………..

5) T20 क्रिकेट के इतिहास में कौन 18 अप्रैल 2017 को 10 हजार रन के आंकड़े को छूने वाला दुनिया का पहला बल्लेबाज बन गया? – क्रिस गेल (Chris Gayle)

विस्तार: वेस्ट इंडीज़ (West Indies) के धमाकेदार बल्लेबाज क्रिस गेल (Chris Gayle) ने 18 अप्रैल 2017 को नया T20 इतिहास लिखा जब वे क्रिकेट के इस फॉर्मेट में 10,000 रन पूरे करने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए। उन्होंने यह मुकाम अपनी टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलौर (RCB) की तरफ से गुजरात लॉयन्स (Gujarat Lions) के खिलाफ राजकोट में आईपीएल (IPL) के एक लीग मैच के दौरान हासिल किया। उन्होंने इस पारी में मात्र 38 गेंदों में धुआँधार 77 रन बनाकर न सिर्फ अपना रिकॉर्ड बनाया बल्कि अपनी टीम की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका भी निभाई।

 इस पारी से पूर्व क्रिस गेल के T20 में 9,997 रन थे। उल्लेखनीय है कि गेल के T20 फॉर्मेट में इसके अलावा भी तमाम कीर्तिमान हैं।

………………………………………………………..

 

http://churugurukul.com/current-affairs-15-18-april-2017